Tuesday, December 6, 2022

चंदौली घटना पर बोले उपमुख्यमंत्री केशव मौर्य, बोले- परिजनों के आरोप पर होनी चाहिए जांच

चंदौली, उत्तर प्रदेश के चंदौली जिले में इस समय मामल सियासी पारा बढ़ा हुआ है. दरअसल, हिस्ट्रीशीटर कन्हैया यादव को पुलिस पकड़ने गई थी, जिस दौरान कन्हैया यादव की बेटी की मौत हो गई, जिसके बाद से अब पुलिस पर कन्हैया के परिवार के उत्पीड़न का आरोप लगाया जा रहा है. इस घटना पर उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने दुख जाताया है, साथ ही परिजनों द्वारा लगाए आरोपों पर पूरे मामले की निष्पक्षता से जांच करने की बात कही है.

SHO उदय प्रताप निलंबित

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने इस मामले पर आगे कहा कि अगर इस मामले में पुलिस दोषी होगी तो उस पर भी कार्रवाई होगी. केशव प्रसाद मौर्य के आने से पहले ही संबंधित थाने के इंस्पेक्टर यानी SHO उदय प्रताप सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

छावनी में तब्दील हुआ गाँव

गैंगस्टर के आरोपी कन्हैया यादव की मृत पुत्री निशा यादव उर्फ गुड़िया का देर रात पोस्टमार्टम करवाया गया. लड़की की मौत के बाद पुलिस और प्रशासन ने शव को परिजनों को सौंप दिया. सोमवार सुबह मणिकर्णिका घाट पर पुलिस की सुरक्षा के बीच लड़की का अंतिम संस्कार किया गया.

पिता कन्हैया यादव ने अपनी पुत्री को मुखाग्नि दी, इधर दूसरी ओर उसके घर मनराजपुर में रात से ही भारी फोर्स तैनात कर दी गई है. घर के आसपास सन्नाटा पसरा हुआ है, फिलहाल गांव में तनावपूर्ण शांति है. गांव के एक हिस्से में कर्फ्यू जैसा माहौल लग रहा है, भारी पुलिस बल की तैनाती देखते हुए लोग अपने ही घरों में कैद हैं.

क्या है पूरा मामला?

सैयदराजा थाना क्षेत्र के गैंगस्टर कन्हैया यादव की तालाश में रविवार शाम पुलिस उसके घर पहुंची थी. आरोप है कि गैंगस्टर कन्हैया यादव के घर पुलिस ने उसकी बेटियों निशा यादव उर्फ गुड़िया और गुंजा को इतना पीटा कि गुड़िया की मौत हो गई, जिसके बाद से ही जिले में हड़कंप मच गया है.
आक्रोशित ग्रामीणों ने मौके पर मौजूद पुलिस पैंथर टीम के दो सिपाहियों को दौड़ा लिया, जिसमें एक पुलिसकर्मी भाग गया तो दूसरा पुलिसवाला गांववालों की मारपीट के चलते गंभीर रूप से घायल हो गया.

 

प्रशांत किशोर बनाएंगे अपनी पार्टी, बिहार से करेंगे शुरुआत

Latest news