वाशिंगटन. अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा ने G-20 शिखर सम्मेलन में चीन के आक्रामक आचरण के लिए आपत्ति जताई है. ओबामा परिणामों का सामना करने की चेतावनी देते हुए चीन से कहा है कि वह विवादित साउथ चाइना सी पर अपने पड़ोसियों को चिंतित करने से बचे. ओबामा ने कहा कि मैंने राष्ट्रपति शी जिनपिंग से बात की और कहा कि अमेरिका संयम रखकर ही ताकतवर बना है.
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
अमेरिकी राष्ट्रपति ने ये बात G-20 शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए चीन जाने से पहले CNN को दिए एक इंटरव्यू में कहीं. ओबामा ने कहा कि हम इंटरनेशनल मानकों और नियमों का पालन इसलिए नहीं करते क्योंकि ऐसा करना है बल्कि इसलिए करते हैं क्योंकि हमें इन कानूनों के साथ रहना चाहिए बल्कि ऐसा इसलिए है कि हमने इन्हें लंबे वक्त से मान्यता दी है. एक मजबूत इंटरनेशन व्यवस्था बनाना हमारे हित में है और मेरा मानना है कि लंबे वक्त बाद यह चीन के हित में भी होगा.
 
ओबामा ने कहा कि इसलिए जहां भी हमने उन्हें इंटरनेशनल नियमों और मानकों का उल्लंघन करते देखा जैसा कि हमने साउथ चाइना सी में कुछ मामलों में देखा या आर्थिक नीति के संबंध में हम बहुत दृढ़ रहे हैं. ओबाना ने कहा कि हमने उन्हें संकेत भी दिया है कि इसके परिणाम सामने आएंगे.
 
राष्ट्रपति ओबामा ने कहा कि चीन एक अरब से अधिक की आबादी के साथ दुनिया की सबसे बड़ी इकॉनोमी में से एक हैं. इसलिए आपसे यह अपेक्षा भी की जाती है कि आपकी इंटरनेशनल मामलों में भूमिका भी बड़ी होगी. हम लगातार कहते रहे हैं कि हम इंटरनेशनल मानकों का पालन करने वाले चीन के शांतिपूर्ण उदय का स्वागत करते हैं. यह सबके लिए अच्छा है. एक शक्तिहीन और बिखरता चीन सबके लिए खतरनाक होगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App