हांगझू. एनएसजी मेंबरशिप के मुद्दे पर चीन के विरोध के बावजूद भारत का दावा लगातार पक्का होता जा रहा है. अब जापान ने भी भारत एनएसजी में भारत की मैंबरशिप का स्वागत किया है. पहली बार जापान ने इस मुद्दे पर टिप्पणी की है. जापानी विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने कहा कि हम एनएसजी में भारत का साथ चाहते हैं, जिसके लिए हम लगातार काम कर रहे हैं.  
 
इनख़बर से जुड़ें | एंड्रॉएड ऐप्प | फेसबुक | ट्विटर
 
जापानी विदेश मंत्रालय के डिप्लोमेसी के महानिदेशक यासुकिरा कावमोरा ने कहा कि हम इस मुद्दे पर भारत के साथ काम करते रहना चाहते हैं, हमें लगता है कि भारत की सदस्यता से परमाणु अप्रसार व्यवस्था को ताकत मिलेगी. साथ ही जापान एनएसजी के दूसरे सदस्य देशों के साथ इस मुद्दे पर लगातार बातचीत करता रहेगा.
 
कावमोरा ने बताया कि भारत की सदस्यता में रोड़े अटकाने के चीन के रवैये से सभी वाकिफ हैं. उन्होंने कहा कि मुख्य मुद्दा आम राय बनाने को सुनिश्चित करना है और हम इस पर काम कर रहे हैं. बता दें कि कावमोरा कुछ साल पहले दिल्ली में जापान के डिप्टी चीफ ऑफ मिशन के रूप में भी काम कर चुके हैं.