रायपुर. बुधवार को अधिकारियों ने बताया कि कथित तौर पर एक बीएसएफ जवान छत्तीसगढ़ के बेमेतरा स्थित ईवीएम स्ट्रांगरूम के बाहर लैपटॉप का इस्तेमाल करते हुए देखा गया. बीएसएफ 175 बटालियन के विक्रम कुमार मेहरा को कांग्रेस के इस बात पर आपत्ति जताने के बाद स्ट्रांगरूम की ड्यूटी से हटा दिया गया है. मंगलवार देर रात कांग्रेस ने सुरक्षाबल द्वारा लैपटॉप के इस्तेमाल पर आपत्ति जताई. इसी के बाद स्थानीय अधिकारियों ने ये कदम उठाया.

राजनीतिक पार्टियों के प्रतिनिधियों के सामने कथित तौर पर इस्तेमाल किए जाने वाले लैपटॉप को जब्त कर लिया गया और आरोपी जवान को ड्यूटी से हटाकर दूसरे जवान को ड्यूटी पर रखा गया. लैपटॉप और उसके अंदर की जानकारी की अधिकारी जांच कर रहे हैं. इसी के बाद आगे किसी तरह की कार्रवाई की जाएगी. हालांकि मौके पर मौजूद अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि ईवीएम को हैक नहीं किया जा सकता है. उन्होंने बताया, ‘ईवीएम स्ट्रांगरूम में सुरक्षित रूप से जमा करवा दी जाती है और उन्हें हैक करना नामुमकिन है. वोटिंग खत्म होते ही वहां मौजूद अधिकारियों द्वारा मशीन बंद कर दी जाती है. मशीन गिनती से पहले ही दोबारा खोली जाती है.’

बता दें कि विधानसभा चुनाव के बाद बेमेतरा के स्ट्रांगरूम में बेमेतरा, नवागढ़ और साजा की ईवीएम को रखा गया है. छत्तीसगढ़ में विधानसभा के लिए चुनाव दो चरण में हुआ था. 12 नवंबर को पहले चरण के चुनाव और 20 नवंबर को दूसरे चरण के चुनाव पूरे हुए. इसी के बाद सभी ईवीएम को जिला हेडक्वॉर्टर स्थित स्ट्रांगरूम में भेज दिया गया. 11 दिसंबर को वोटों की गिनती की जाएगी.

Raipur West Constituency Chhattisgarh Vidhan Sabha Election 2018: PWD मंत्री राजेश मूणत क्या बचा पाएंगे अपना गढ़, जानें 2013 में रायपुर शहर पश्चिम विधानसभा सीट का रिजल्ट और विनर

Chhattisgarh Assembly Elections 2018: छत्तीसगढ़ में दूसरे चरण की वोटिंग खत्म, 11 दिसंबर को नतीजे घोषित, चुनाव आयोग ने कहा- 71.93 फीसदी हुआ मतदान

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर