Saturday, November 26, 2022

LIC Jeevan Labh Policy Plan Table No 836: जानें एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी प्रीमियम के फायदे सहित अन्य बेनीफिट

नई दिल्ली. LIC Jeevan Labh Policy Plan Table No 836: लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) की जीवन लाभ पॉलिसी एक एंडोमेंट प्लान है जो सुरक्षा और बचत के लिए सुविधा उपलब्ध कराता है. एलआईसी लाभ पॉलिसी शुरू करने के लिए व्यक्ति को एक राशि जमा करनी पड़ती है. अगर पॉलिसी को पूरा होने से पहले व्यक्ति की मौत हो जाती है तो एलआईसी द्वारा बीमाधारक के परिवार वालों की मदद की जाती है. इसके अलावा एलआईसी एंडोमेंट प्लान के अतिरिक्त बचत, पेंशन और बीमा उत्पाद, टर्म इंश्योरेंस प्लान, यूनिट लिंक्ड प्लान, हेल्थ इंश्योरेंस प्लान, पेंशन प्लान और माइक्रो इंश्योरेंस प्लान भी विमाधारको को उपलब्ध कराता है.

यहां जानें एलआईसी बीमा प्रीमियम, एलिजिबिलिटी, क्राइटेरिया के बारें में : know about the Lic premium, eligibility criteria, sum assured and other benefits

एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी को कोई भी व्यक्ति जिसकी आयु 9 वर्ष से 59 वर्ष है वो इस पॉलिसी को खरीद सकता है. एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी 16 वर्ष के लिए होती है. एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी लेने के लिए न्यूनतम राशि 2 लाख रुपये है, जबकि अधिकतम राशि की कोई लिमिट नहीं है.

एलआईसी जीवन लाभ तीन अलग-अलग पॉलिसी / प्रीमियम-भुगतान की शर्तें बीमाधारकों को मुहैया कराता है. एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी 16 वर्ष की पॉलिसी अवधि और 10 साल की प्रीमियम की सुविधा प्रदान करता है. इसके अलावा एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी 21 वर्ष और 15 वर्ष की प्रीमियम उपलब्ध कराता है. अगर कोई व्यक्ति 21 वर्ष की पॉलिसी अवधि चुनता है तो अधिकतम आयु सीमा 54 वर्ष होनी चाहिए. जबकि 25 वर्ष की पॉलिसी चुनने वाले व्यक्ति की आयु 75 वर्ष होनी चाहिए.

एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी पॉलिसी लेने वाला व्यक्ति इसका भुगतान मासिक, छमाही या वार्षिक रुप में अपने सुविधानुसार नियमित रूप से कर सकता है. एलआईसी जीवन लाभ पॉलिसी की मानें तो बीमाधारक प्रीमियम राशि का भुगतान वार्षिक, अर्धवार्षिक और त्रैमासिक मोड में अगर करता है तो उसे दूसरी किश्त जमा करने के लिए 30 दिन का अंतर जरूर होना चाहिए, जबकि मासिक मोड में पेमेंट करने वालों के लिए 15 दिन का अंतर होना चाहिए.

यदि बीमाधारक की एंडोमेंट इंश्योरेंस प्लान पूर्ण होने से पहले मृत्यु हो जाती है तो नामिती (यानी कि जिसके नाम व्यक्ति नामिती के रुप में रखा है) को मृत्यु पर बीमित राशि ’मिलेगी. एलाआईसी की इस सुविधा को मृत्यु पर भुगतान की जाने वाली पूर्ण राशि के रूप में परिभाषित किया गया है. हालांकि यह लाभ बीमाधारक को कुल भुगतान का 105 प्रतिशत यानी कि 10 गुना से ज्यादा नहीं दिया जाएगा.

नोट- अगर बीमाधारक की बीमा पॉलिस पूरी हो जाती है तो , एलआईसी द्वारा बीमा धारक कुल राशि के अलावा बोनस सहित जोड़कर दिया जाता है.

NEET Results 2019: नीट 2019 की परीक्षा में फेल स्टूडेंट्स, इन कोर्सों के माध्यम से बना सकते हैं मेडिकल के क्षेत्र में करियर

AIIMS Nursing 2019 Result Declared: एम्स नर्सिंग बीएससी पोस्ट बेसिक प्रोग्राम 2019 का परिणाम जारी, nursing.aiimsexams.org से करें डाउनलोड

Latest news