Wednesday, December 7, 2022

एमसीडी चुनाव 2022 नतीजे

एमसीडी चुनाव  (250 / 250)  
BJP - 104
CONG - 09
AAP - 134
OTH - 03

लेटेस्ट न्यूज़

Time मैगज़ीन के पर्सन ऑफ द ईयर बने यूक्रेनी राष्ट्रपति जेलेंस्की

0
नई दिल्ली : यूक्रेन के राष्ट्रपति जेलेंस्की को विश्व प्रसिद्ध पत्रिका टाइम ने पर्सन ऑफ द ईयर 2022 बनाया है. बता दें, हर साल...

उत्तराखंड : कोर्ट ने Facebook पर लगाया 50 हजार का जुर्माना, जानिए पूरा मामला

0
नैनीताल : बुधवार (7 दिसंबर) को नैनीताल हाईकोर्ट ने फेसबुक पर 50 हजार का जुर्माना लगाया है. ये जुर्माना सही समय पर जवाब दाखिल...

हैदराबाद : देह व्यापर में धकेली जा रही थीं 14 हज़ार लड़कियां, ऐसे पकड़ा...

0
Hyderabad: हैदराबाद की साइबराबाद पुलिस को देह-व्यापर के गोरकधंधे में एक बड़ी कामयाबी हासिल हुई है. पुलिस ने वेश्यावृत्ति का राजफास करते हुए 17...

NCLAT का बड़ा फैसला, साइरस मिस्त्री फिर बनेंगे टाटा सन्स के चेयरमैन

नई दिल्ली. नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल, NCLAT ने टाटा सन्स के चेयरमैन पद से सायरस मिस्त्री को अवैध ठहरा दिया है. इस आदेश के बाद टाटा मैनेजमेंट को बड़ा झटका लगा है. एनसीएसएटी ने साइरस मिस्त्री को फिर से टाटा सन्स का एग्जीक्यूटिव चेयरमैन बनाने का फैसला सुनाया है. अब टाटा ग्रुप इस फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में जा सकता है.

तीन साल बाद फिर टाटा के चेयरमैन बनेंगे साइरस मिस्त्री-
एनसीएलएटी के आदेश के बाद एक बार फिर साइरस मिस्त्री टाटा सन्स के एग्जीक्यूटिव चेयरमैन बनेंगे. तीन साल पहले उन्हें इस पद से हटाया गया था. साइरस मिस्त्री 2012 में पूर्व चेयरमैन रतन टाटा के रिटायरमेंट के बाद इस पद पर काबिज हुए थे. अक्टूबर 2016 में उन्हें इस पद से हटा दिया गया था.

इसके बाद साइरस मिस्त्री ने नेशनल कंपनी लॉ ट्रिब्यूनल से संपर्क किया और इसकी शिकायत की. हालांकि इससे पहले टाटा में निवेश करने वाली दो प्राइवेट फर्म ने भी साइरस मिस्त्री को हटाने के खिलाफ एनसीएलएटी में याचिका दायर की थी, जो खारिज कर दी गई थीं.

साइरस मिस्त्री को क्यों हटाया-
साइरस मिस्त्री के टाटा सन्स के चेयरमैन बनने के बाद से ही उनका कंपनी बोर्ड के अन्य सदस्यों से मतभेद हुए थे. रतन टाटा खेमे के अधिकारी उनकी मनमानियों से परेशान हो चुके थे.

इसके बाद टाटा ग्रुप ने यह कहते हुए साइरस मिस्त्री को चेयरमैन पद से हटा दिया था कि बोर्ड ने उनके प्रति विश्वास खो दिया है. टाटा ग्रुप ने कहा कि साइरस मिस्त्री कंपनी को नुकसान पहुंचाने वाले काम कर रहे हैं. कंपनी की संवेदनशील जानकारियां लीक कर रहे हैं. जिससे कंपनी को बाजार में काफी नुकसान झेलना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ें-

एसबीआई के जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट के लिए नहीं पड़ेगी KYC डॉक्यूमेंट्स की जरूरत, ब्याज दर में नहीं होगा बदलाव

बिना दस्तावेज आधार कार्ड के लिए ऐसे करें अप्लाई

Latest news