नई दिल्ली. SBI Zero Balance Savings Account: भारत के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए बेहद खास जीरो बैलेंस बचत खाते यानी सेविंग अकाउंट की शुरुआत की है. एसबीआई द्वारा शुरू किए जा रहे इस जीरो बैलेंस बचत खाते की सबसे खास बात यह कि इसे खोलने के लिए व्यक्ति को केवाईसी डॉक्यूमेंट्स की जरूरत नहीं पड़ेगी. मालूम हो कि एसबीआई अपने ग्राहकों को रेगुलर सेविंग अकाउंट के अलावा एक अलग सेविंग अकाउंट यानी स्माल सेविंग अकाउंट खोलने का ऑप्शन देता है. इसमे ग्राहकों को केवाईसी की प्रक्रिया से गुजरना नहीं होता है.

बता दें कि स्टेट बैंक ऑफ इंडिया यानी एसबीआई यह सुविधा उन ग्राहकों को देता है जिनके पास केवाईसी डॉक्यूमेंट्स नहीं होते हैं. यह एक जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट होता है. साधारण तौर पर बैंक कस्टमर के खाते खोलने के लिए एक सख्त केवाईसी प्रक्रिया का पालन करते हैं. एसबीआई की आधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक इस विशेष जीरो बैलेंस अकाउंट खोलने के लिए कस्टमर का 18 वर्ष का होना बेहद जरूरी है. हां अगर आप इस अकाउंट को रेगुलर सेविंग अकाउंट में बदलना चाहेंगे तो आपको केवाईसी प्रक्रिया से गुजरना होगा.

एसबीआई जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट के बारे में जानिए ये खास बातें

एसबीआई के इस जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट के लिए मिनिमम बैलेंस रखना जरूरी नहीं हैं. इस अकाउंट में कस्टमर अधिक्तम 50 हजार रुपए हर सकते हैं.

एसबीआई की वेबसाइट के मुताबिक यदि बैलेंस 50000 से अधिक है या अकाउंट में एक साल में कुल क्रेडिट 10,0000 रुपये से अधिक है. तो बिना केवाईसी के पैसों का ट्रांजैक्शन नहीं किया जा सकेगा.

इस जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट या स्माल सेविंग अकाउंट में महीने में कुल निकासी 10 हजार रुपए से अधिक नहीं होनी चाहिए.

जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट होल्डर एक महीने में सिर्फ 4 बार पैसों की निकासी कर सकता है. जिसमें एसबीआई और अन्य बैंकों के एटीएम से निकासी शामिल है.

स्टेंट बैंक ऑफ इंडिया जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट यानी स्माल सेविंग अकाउंट पर उतना ही ब्याज देता है जितना रेगुलर सेविंग अकाउंट वाले को मिलता है. बैंक 1 लाख रुपए से कम के डिपॉजिट मनी पर सालाना 3.25 फीसदी की दर से ब्याज दे रहा है.

एसबीआई जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट और स्माल सेविंग अकाउंट होल्डर को फ्री में एक बेसिक RuPay एटीएम सह डेबिट कार्ड जारी करता है.

जीरो बैलेंस सेविंग अकाउंट होल्डर को कोई सालाना चार्ज नहीं देना होता है. NEFT/RTGS से पैसे ट्रांसफर करना भी फ्री है. अगर आप यह अकाउंट बंद करना चाहते हैं तो भी आपको कोई चार्ज नहीं देना होता है.

एक बात का ध्यान रखें कि आपके इस खाते में विदेशी मुद्रा या पैसा तभी क्रेडिट हो सकेगा जब वैलिड डॉक्यूमेंट के साथ कस्टमर का वेरिफिकेशन होगा.

अगर आप इस खाते को रेगुलर सेविंग अकाउंट में बदलना चाहते हैं तो आपको होम ब्रांच मे जाकर केवाईसी प्रक्रिया पूरी करनी होगी. आपका अकाउंट नंबर वही रहेगी.

How To Apply For Aadhaar Card Without Document: बिना दस्तावेज आधार कार्ड के लिए ऐसे करें अप्लाई

SBI Card IPO: एसबीआई कार्ड आईपीओ के बारे में यहां जाने सारी जानकारी, मिलेगा मोटी कमाई का मौका

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App