नई दिल्ली. जिन ग्राहकों के पास भारतीय स्टेट बैंक, एसबीआई बचत खाता हो या होम लोन, उन्हें ब्याज दर और शुल्क जैसी कई बातें बैंक से किसी भी सेवा का लाभ उठाते समय पता होना चाहिए. इन बातों और शुल्कों से अवगत होने के कारण आपके बैंकिंग अनुभव में कोईप परेशानी नहीं होगी जो बाद में उत्पन्न हो सकती है.

जानें एसबीआई बैंक खाते से जुड़ी अहम जानकारी:

बचत खाते की ब्याज दरें
एसबीआई बचत खाते की शेष राशि में ब्याज दर अर्जित करने के नियम बदल गए हैं. ब्याज दर कोई निश्चित प्रतिशत नहीं होगी, लेकिन आरबीआई द्वारा निर्धारित रेपो दर में बदलाव के अनुसार अलग-अलग होगी. हालांकि, परिवर्तनीय ब्याज दर केवल 1 लाख रुपये से अधिक के शेष पर लागू होगी. कम शेष राशि वाले लोग प्रति वर्ष 3.5 प्रतिशत अर्जित करेंगे. इससे छोटे जमाकर्ताओं को प्रभाव नहीं पड़ेगा.

शुल्क
एक बैंक खाता धारक के रूप में या यदि आप बैंक से ऋण प्राप्त कर रहे हैं, तो यह महत्वपूर्ण है कि आप बैंक द्वारा लगाए जाने वाले विभिन्न शुल्क से अवगत हों. उनमें से कुछ अनिवार्य हो सकते हैं जबकि कुछ अन्य सुविधाओं पर लगाए जा सकते हैं.

बचत खाता प्रभावी 01/04/2017 के मामले में कुछ महत्वपूर्ण शुल्क यहां दिए गए हैं और 24.07.2017 तक अपडेट किए गए हैं:

भुगतान अनुदेश रोकें – 100 रुपये जीएसटी अलग से
डुप्लीकेट पासबुक – 100 रुपये से अधिक जीएसटी अलग से
होम ब्रांच अकाउंट का ट्रांसफर – कोई शुल्क नहीं
एसबीआई (केवल अपर्याप्त धन के लिए) पर चेक के लिए लौटाए गए चेक की जाँच करें – 500 रुपये जीएसटी अलग से, राशि के बावजूद
एसबीआई पर चेक के लिए लौटाए गए चेक (तकनीकी कारणों से) के लिए 150 से अधिक जीएसटी अलग से
ऋण खाते में असफल स्थायी अनुदेश (एस.आई.) – 250 रुपये जीएसटी अलग से
हस्ताक्षर सत्यापन – 150 रुपये से अधिक जीएसटी अलग से
एटीएम कार्ड / केआईटी गलत पते के कारण कूरियर द्वारा लौटाया गया – 100 रुपये जीएसटी अलग से

सावधि जमा ब्याज दरें
एसबीआई ने 1 साल की जमा पर सावधि जमा दरों को बढ़ाकर 2 साल से कम कर दिया है जबकि अन्य लंबी अवधि की जमाओं के लिए दर थोड़ी कम कर दी है. ब्याज की नई दर 9 मई 2019 से प्रभावी है. ब्याज की प्रस्तावित दरें नए सिरे से जमा और परिपक्वता जमा के नवीकरण पर लागू की जाएंगी. एसबीआई टैक्स सेविंग्स स्कीम 2006 (एसबीआईटीएसएस) खुदरा जमा और एनआरओ जमा पर ब्याज दरों को घरेलू खुदरा सावधि जमा के लिए प्रस्तावित दरों के अनुसार रखा जाएगा.

SBI Instant Money Transfer Service: भारतीय स्टेट बैंक डेबिट कार्ड की मदद से किसी को तुरंत कैसे करें पैसे ट्रांसफर

SBI Flexi Deposit Scheme: स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के फ्लेक्सी डिपॉजिट अकाउंट पर ब्याज दर, लोन सुविधा और फायदे

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App