नई दिल्ली. जेट एयरवेज ने मंगलवार को कहा कि उसके उप मुख्य कार्यकारी अधिकारी और मुख्य वित्तीय अधिकारी अमित अग्रवाल ने इस्तीफा दे दिया है. एयरलाइन ने कहा कि अमित अग्रवाल ने निजी कारणों के चलते पद छोड़ दिया. जेट एयरवेज के शेयरों में मंगलवार को 12 फीसदी से ज्यादा की गिरावट आई. अमित अग्रवाल का इस्तीफा ऐसे समय में आया है जब एयरलाइन 1.2 बिलियन डॉलर से अधिक के कर्ज से जूझ रही है और सप्लायरों, पायलटों और तेल कंपनियों पर कंपनी का बकाया है.

कंपनी के उधारदाताओं ने एयरलाइन में एक नियंत्रित हिस्सेदारी ली है और वर्तमान में अपने बकाया की वसूली के लिए एक हिस्सेदारी बेचने की प्रक्रिया में हैं. 13 मई को अमित अग्रवाल के इस्तीफे का असर हुआ. इस बारे में जानकारी कंपनी की ओर से दी गई. हालांकि जेट एयरवेज ने अमित अग्रवाल की जगह किसी और को पद देने के बारे में कोई जानकारी नहीं दी है.

अमित अग्रवाल 2015 में जेट एयरवेज के साथ मुख्य वित्तीय अधिकारी के रूप में शामिल हुए थे. उनके इस्तीफे के बाद बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) पर जेट एयरवेज का शेयर 12.44 प्रतिशत घटकर 139.45 रुपये के मुकाबले 122.10 रुपये हो गया है. सुबह 10:16 बजे तक जेट एयरवेज के शेयर 10.33 प्रतिशत कम पर 125.05 रुपये पर था.

जेट एयरवेज के बंद होने की वजह से हजारों कर्मचारियों को नौकरी गंवानी पड़ी. जेट की हिस्सेदारी खरीदने से भी कंपनियां परहेज कर रही हैं. हालांकि जेट के ही अंतरराष्ट्रीय सहयोगी एतिहाद ने हिस्सेदारी खरीदने की इच्छा जताई है. एतिहाद ने कहा है कि वह जेट में 1700 करोड़ रुपये का निवेश कर सकती है. एतिहाद ने जेट की उधारी चुकाने के बारे में कोई वादा नहीं किया है.

MP Board results 2019: मध्य प्रदेश बोर्ड 10वीं और 12वीं रिजल्ट आज हो सकता है जारी, ऐसे देखें रिजल्ट www.mpbse.nic.in

Jet Airways Employees Job Offers: जेट एयरवेज के कर्मचारियों को ट्विटर पर मिल रहे जॉब के ऑफर, स्पाइसजेट समेत ये कंपनियां निकाल रहीं बेरोजगारी के संकट से

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App