नई दिल्ली. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के सलाना वैश्विक प्रतिस्पर्धिता रैंकिंग में भारत 58वें स्थान से 68वें स्थान पर पहुंच गया है. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम के मंच से कहा गया कि बड़े स्तर की आर्थिक स्थिरता और बाजार के आकार के मामले में भारत की अर्थव्यवस्था ठीक है. लेकिन कुछ क्षेत्रों में बहुत ही खराब प्रदर्शन भारत का रहा है. जिसके वजह से भारत की वैश्विक प्रतिस्पर्धिता सूचकांक में 10 अंको की गिरावट दर्ज किया गया है. भारत इस साल ब्रिक्स संगठन के देशों में सबसे खराब प्रदर्शन करने वाली अर्थव्यस्थाओं में शामिल रहा है. वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम मंच ने कहा कि वृहद आर्थिक स्थिरता और बाजार के साइज के मामलों में भारत की स्थिति ठीक है. वित्तिय क्षेत्र में स्थिति ठीक है, लेकिन चूक की दर खराब होने से बैंकिंग प्रणाली प्रभावित हुई है.

वर्ल्ड इकोनॉमिक सूचकांक के अनुसार, भारत की रैंकिंग कंपनी संचालन में 15वां है, शेयरधारक संचालन में दूसरा और बाजार के साइज और अक्षय ऊर्जा नियमन में तीसरा रैंकिंग है. नई खोज करने में भारत का प्रदर्शन विकाशिल देशों की अर्थव्यस्थाओं में आगे है और विकसित देशों के बराबर रहा है. हालांकि सूचना, संचार और प्रौधौगिकी को अपनाने में पीछे रहा है, स्वास्थय और चिकित्सा के क्षेत्रों में बहुत ही खराब स्थिति है, लगभग अफ्रीकी देशों जैसा ही है. स्वास्थ और चिकित्सा की खराब स्थिति है. स्वस्थ जीवन की संभावना में की खराब दर ने कई क्षेत्रों में हो रही अच्छे प्रदर्शन को भी सीमित कर दिया है. स्वस्थ जीवन की संभावना के मामने में भारत का स्थान 109 रहा . भारत की स्वास्थ क्षेत्रों की रैकिंग अफ्रीका के बाहर के देशों में सबसे खराब है.

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम मंच ने कहा है कि भारत में पुरूष कामगारों के तुलना में महिला कामगारों का अनुपात 0.26 है. जो काफी कम है. इस मामले में भारत की रैकिंग 128 है. इसके बाद दक्षिण एशियाई देशों में भारत के बाद श्रीलंका 84, बांग्लागेश 105, नेपाल 108 और पाकिस्तान की रैकिंग 110 है.

अध्ययन में कहा गया है कि विश्व स्तर पर आर्थव्यवस्थाओं में नरमी की संभावना अभी कम है. वर्ल्ड इकोनॉमिक प्रतिस्पर्धिता रैंकिंग में सिंगापुर ने अमेरिका पीछे धकेल कर पहला स्थान हासिल किया है. इसके बाद दूसरे स्थान पर अमेरिका है, तीसरे नंबर पर हांग कांग, चौथे पर नीदरलैंड और 5 वें स्थान पर स्वीट्जरलैंड है.

Manmohan Singh and CM Amrinder Singh will Not Go to Pakistan: करतारपुर कॉरिडोर उद्घाटन समारोह में शामिल होने पाकिस्तान नहीं जाएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह, सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ जत्थे में होंगे शामिल

UGC NET 2019: यूजीसी नेट 2019 के लिए आवेदन करने की अंतिम तारीख आज, करें अप्लाई ntanet.nic.in

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App