नई दिल्ली.  वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज यानी 1 फरवरी को नरेंद्र मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का दूसरा फुल बजट यानी आम बजट 2020 पेश किया. बजट 2020 में सबसे बड़ी घोषणा टैक्सपेयर्स के लिए की गई और उनके लिए नरेंद्र मोदी सरकार ने आयकर छूट की सीमा में सकारात्मक बदलाव किए, जो कि आम लोगों के लिए बड़ी राहत की खबर है. वित्त मंत्री  ने किसानों, युवाओं और समाज के लगभग हर तबके के लिए लोककल्याणकारी घोषणाएं कीं.

इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव, नौकरीपेशा लोगों को बड़ी राहत
-5 लाख तक की आमदनी पर कोई टैक्स नहीं
-7 से 7.5 लाख तक के इनकम पर 10 फीसदी टैक्स
-7.5 लाख से 10 लाख तक की आय पर 15 फीसदी टैक्स
-10 से 12.5 लाख तक की आय पर 20 फीसदी
-12.5 से 15 लाख तक की आय पर 25 फीसदी

निर्मला सीतारमण वित्त मंत्री के रूप में आज सुबह 11 बजे संसद में अपना दूसरा बजट भाषण पढ़ा. बजट 2020 पर नरेंद्र मोदी सरकार के साथ ही आम लोगों की भी नजर थी, क्योंकि आर्थिक मोर्चे में पिछड़ी केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए अगले एक साल तक किस तरह की आर्थिक नीतियों पर चलने वाली है और किस तरह की लोककल्याणकारी नीतियों के क्रियान्वयन पर जोर देने वाली है, जिससे रोजगार के अवसर पैदा होंगे, जीडीपी रेट, इकॉमोनिक ग्रोथ रेट के साथ ही समूल विकास का रास्ता बनेगा, यह देखना अहम है. बजट पेश करने से पहले वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने अहम बैठक की.

माना जा रहा था कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण एक बार फिर से लाल कपड़े से लिपटे बही खाते में बजट 2020 के दस्तावेज को संसद में पेश करेंगी और बजट भाषण पढ़ेंगी. माना जा रहा था कि नरेंद्र मोदी सरकार राज्यों में इंफ्रास्ट्रक्टर पर होने वाले खर्च को बढ़ाने और आयकर में छूट समेत कई बड़ी घोषणाएं कर सकती हैं. साथ ही रोजगार सृजन से जुड़े अनाउंसमेंट भी कर सकती हैं. बीते दिन यानी 31 जनवरी को जारी किए गए इकॉनोमिक सर्वे में नरेंद्र मोदी सरकार ने उम्मीद जताई कि आर्थिक विकार दर 6.1 से 6.5 के बीच रह सकती है.

 

यहां देखें बजट 2020 से जुड़े अपडेट्स और बजट भाषण और नरेंद्र मोदी सरकार के आम बजट 2020 से जुड़ी पूरी जानकारी:

Highlights

डिफेंस सेक्टर के लिए 1,10,734 करोड़ रुपये आवंटित

बजट 2020 में डिफेंस सेक्टर के लिए 1,10,734 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं, जो कि पिछले साल आवंटित राशि से 10,340 करोड़ रुपये ज्यादा हैं. इन राशियों से भारतीय सेना के लिए नए हथियार खरीदने के साथ ही पुराने हथियारों का रखरखाव संभव हो सकेगा.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया सबसे लंबा बजट भाषण

नए स्लैब से टैक्स देना वैकल्पिक होगा. इस बीच निर्मला सीतारमण ने भारतीय बजट के इतिहास में सबसे लंबा भाषण दिया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण लगभग 2 घंटे 45 मिनट तक लगातार भाषण देती रहीं.

नरेंद्र मोदी सरकार ने चुनावी माहौल में टैक्सपेयर्स को दी राहत

नरेंद्र मोदी सरकार ने चुनावी मौसम में बजट 2020 के बहाने टैक्सपेयर्स को राहत देने का काम किया है और आयकर दरों में छूट का ऐलान किया है. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव की घोषणा करते हुए अलग-अलग आय वालों के लिए अलग-अलग टैक्स निर्धारित किए हैं और दावा किया है कि इससे मिडल क्लास लोगों को बड़ी राहत मिली है और साथ ही इस कोशिश से लोग टैक्स देने के लिए प्रेरित होंगे.

इनकम टैक्स स्लैब में बदलाव, नौकरीपेशा लोगों को बड़ी राहत

5 लाख तक की आमदनी पर कोई टैक्स नहीं
7 से 7.5 लाख तक के इनकम पर 10 फीसदी टैक्स
7.5 लाख से 10 लाख तक की आय पर 15 फीसदी टैक्स
10 से 12.5 लाख तक की आय पर 20 फीसदी
12.5 से 15 लाख तक की आय पर 25 फीसदी

नई कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स 15 फीसदी किया गया

नई कंपनियों के लिए कॉरपोरेट टैक्स 15 फीसदी किया गया
मैन्यूफैक्चरिंग में पुरानी कंपनियों के लिए 22 फीसदी टैक्स

जीवन बीमा निगम (एलआईसी) में हिस्सेदारी बेचेगी सरकार

केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार ने एक और बड़ा फैसला करते हुए बजट भाषण में कहा कि वह एलआईसी का एक बड़ा हिस्सा बेचेगी. इससे पहले नरेंद्र मोदी सरकार ने आईडीबीआई बैंक की हिस्सेदारी बेचने का ऐलान किया था. हिस्सेदारी बेचने के लिए केंद्र सरकार आईपीओ लाएगी.

बजट 2020 में जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए 30 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड

-जम्मू-कश्मीर के विकास के लिए 30 हजार करोड़ रुपये से ज्यादा का फंड
-लद्दाख के विकास के लिए करीब 6 हजार करोड़ रुपये का फंड
-बैंकिंग सिस्टम को बेहतर बनाने पर जोर
-बजट में वरिष्ठ नागरिकों के लिए 9000 करोड़ रुपये का ऐलान
-आईडीबीआई बैंक में सरकार अपनी हिस्सेदारी बेचेगी

बैंक जमा पर गारंटी एक लाख से बढ़ाकर 5 लाख की गई

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट 2020 भाषण के दौरान बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि बैंक गारंटी जो पहले एक लाख रुपये थी, उसे बढ़ाकर 5 लाख रुपये करने का फैसला किया गया है.

बजट 2020 में नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी का ऐलान

-सरकारी बैंकों के लिए राष्ट्रीय भर्ती एजेंसी बनेगी, नेशनल रिक्रूटमेंट एजेंसी का ऐलान
-जी-20 सम्मेलन की तैयारियों के लिए 100 करोड़ रुपये का फंड

पीएम नरेंद्र मोदी ने देश को पांच बड़ी चीजें दीं, राष्ट्रीय सुरक्षा सबसे बड़ी प्राथमिकता

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि पर्यावरण, कारोबार और समाज के लिए पीएम नरेंद्र मोदी ने काफी सराहनीय काम किए हैं. वित्त मंत्री ने कहा कि बजट 2020 लोगों की आमदनी और खरीदारी क्षमता बढ़ाएगा. कानून के तहत टैक्स चार्टर लाया जाएगा, टैक्स को लेकर किसी को परेशान नहीं किया जाएगा.

रिसर्च के लिए म्यूजियम बनाया जाएगा, रांची में ट्राइबल म्यूजियम: वित्त मंत्री

-रिसर्च के लिए म्यूजियम बनाया जाएगा
-संस्कृत को बढ़ावा देने के लिए डीम्ड यूनिवर्सिटी
-रांची में आदिवासी संग्रहालय
-टूरिजम सेक्टर के विकास के लिए 2500 करोड़ रुपये
-5 पुरातत्व जगहों को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा

बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ अभियान का राजनीतिकरण न करने की अपील

-स्कूल जाने वालीं लड़कियों की संख्या बढ़ी
-स्कूलों में लड़कियों का एडमिशन लड़कों से ज्यादा
-बेटी पढ़ाओं योजना से लड़कियों को फायदा
-आंगनवाड़ी के तहत 10 करोड़ लोगों को लाभ
-6 लाख आंगनवाड़ी वर्कर्स के पास मोबाइल फोन हैं

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बताया कि हमारी सरकार ने मानव रहित रेलवे क्रॉसिंग को खत्म किया

-550 स्टेशनों पर वाई-फाई फैसिलिटी शुरू की जाएगी
-पीपीपी मॉडल से रेलवे स्टेशनों का विकास
-नेशनल गैस ग्रिड की शुरुआत होगी
-गैस का ग्रिड लाइन 27,000 किमी तक बढ़ेगी
-बजट में बेंगलुरु-चेन्नै एक्सप्रेसवे का ऐलान
-पीपीपी के तहत 150 ट्रेनें आएंगी

बजट में भारत नेक प्रोग्राम का ऐलान, 5 नई स्मार्टसिटी बनाने का ऐलान

भारत को मोबाइल हब बनाएंगे
बजट में निर्वीक योजना का ऐलान
देशभर में डेटा सेंटर पार्क बनाएं जाएंगे
स्टार्टअप के लिए डिजिटल प्लैटफॉर्म
बजट में सरस्वती-सिंधू यूनिवर्सिटी की ऐलान

पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे, इंजीनियर्स के लिए एक साल की इंटर्नशिप होगी

-कृषि और सिंचाई के लिए 1.2 लाख करोड़ का फंड
-इनवेस्टमेंट क्लियरेंस सेल का गठन किया जाएगा
-पीपीपी मॉडल पर मेडिकल कॉलेज बनाए जाएंगे
-इंजीनियर्स के लिए एक साल की इंटर्नशिप होगी
-घरेलू मैन्यूफैक्चरिंग क्षेत्रों को बढ़ावा दिया जाएगा
-मेडिकल उपकरणों के लिए नई स्कीम बनेगी

जल्द ही नई शिक्षा नीति का ऐलान, एजुकेशन सेक्टर के लिए 93,000 करोड़ रुपये

-किसान क्रेडिट कार्ड के लिए 15 लाख करोड़ रुपये का प्रावधान
-डिप्लोमा के लिए 150 नए शिक्षण संस्थान
-एजुकेशन सेक्टर के लिए 93,000 करोड़ रुपये
-स्किल इंडिया के जरिये रोजगार पर जोर
-कौशल विकास के लिए 3000 करोड़ रुपये
-ग्रामीण इलाकों में ऑनलाइन डिग्री लेवल कार्यक्रम
-बजट में नेशनल फोरेंसिक यूनिवर्सिटी का प्रावधान
-देश में शिक्षकों और नर्सों की सबसे ज्यादा जरूरत

स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम के लिए 12,300 करोड़ रुपये

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट भाषण पढ़ते हुए घोषणा की कि साल 2020-21 के दौरान स्वच्छता मिशन यानी स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम के लिए 12,300 करोड़ रुपये आवंटित किए जा रहे हैं और इस दौरान कोशिश होगी कि लोगों को खुले में शौच न करने और देश को खुले में शौच मुक्त बनाने के लिए जागरुक करें.

हर घर को शुद्ध पानी देने का लक्ष्य, नमक वाले पानी का ट्रीटमेंट किया जाएगा: वित्त मंत्री

-देश के हर घर तक साफ पानी पहुंचाएंगे
-पीएम जन आरोग्य कार्यक्रमों के 112 जिलों को जोड़ेंगे
-2025 तक देश को टीबी जैसी गंभीर बीमारी से मुक्त करेंगे
-5 नए तरीके से टीकाकरण कार्यक्रम शुरू
-टीबी हारेगा, देश जीतेगा अभियान
-साल 2024 तक सभी जिलों में जन औषधि

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पंडित दीनानाथ कौल की कविता पढ़ी

पंडित दीनानाथ कौल द्वारा रचित कविता के माध्यम से बजट सत्र को संबोधित करते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण: हमारा वतन खिलते हुए शालीमार बाग जैसे, हमारा वतन डल झील में खिलते हुए कमल जैसा,नवजवानों के गर्म खून जैसा,
मेरा वतन, तेरा वतन, हमारा वतन
दुनिया का सबसे प्यारा वतन।

जीरो बजट फार्मिंग का केंद्र सरकार का लक्ष्य: वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण

-कुसुम योजना से 10 लाख किसानों को सिंचाई पंप देने की पहल
-दूध, मांस, मछली के लिए किसान रेल योजना
-महिलाओं के लिए सेल्फ हेल्प ग्रुप को प्रोत्साहन
-एक प्रोडक्ट-एक जिले पर फोकस करेंगे

किसानों के लिए 16 सूत्रीय प्लान, किसान के खेतों में सोलर ऊर्जा से सिंचाई: वित्त मंत्री

-जल संकट से जूझ रहे 100 जिलों के लिए खास घोषणाएं
-पशुपालन, मछली पालन पर विशेष जोर देने की जरूरत
-किसानों के लिए राज्यों के पास कानून से प्रोत्साहन
-बंजर जमीन पर सौर ऊर्जा उत्पादन पर फोकस
-रासायनिक खादों के विकल्प तलाशेंगे
-20 लाख किसानों को सोलर पंप देंगे

बजट 2020 सभी तबके के लोगों की आय सुनिश्चित करने वाला है: वित्त मंत्री

हमारा बजट सभी तबके के लोगों की आय सुनिश्चित करने वाला. अर्थव्यवस्था को आगे बढ़ाने वाला बजट. वित्त मंत्री ने कहा कि बजट 2020 में अर्थव्यवस्था की रफ्तार तेज करने के साथ ही सभी प्रमुख आर्थिक समस्याओं के समाधान का प्रयास किया गया है और कोशिश की गई है कि इस बजट में समाज के सभी तबकों की महत्वाकांक्षाएं पूरी हों.

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बोलीं- सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास ध्यान में रखते हुए बजट 2020 बनाया गया है

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि भारत दुनिया की पांचवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है और हम 5 ट्रिलियन डॉलर इकॉनोमी की तरफ बढ़ रहे हैं. निर्मला सीतारमण ने कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार लोगों के स्वास्थ्य, शिक्षा, रोजगार और समूल विकास की दिशा में काम कर रही है और इसी उद्देश्य के साथ बजट 2020 भी बनाया गया है.

नए दशक का पहला आम बजट, उम्मीदों से भरा

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने संसद में बजट भाषण पढ़ना शुरू कर दिया है. वित्त मंत्री ने कहा कि बजट 2020 आमलोगों की उम्मीदों को ध्यान में रखकर बनाया गया है और यह समाज के सभी तबकों की उम्मीदों पर खड़ा उतरेगा. वित्त मंत्री फिलहाल नरेंद्र मोदी सरकार के बीते साल की नीतियों और क्रियान्वयन का ब्योरा पेश कर रही है और बता रही हैं कि किस तरह नरेंद्र मोदी सरकार ने अर्थव्यवस्था को गति देने की दिशा में काम किया है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App