नई दिल्ली. भले ही पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम अब नहीं रहे, लेकिन उनका ट्विटर एकाउंट भविष्य में भी नए रूप में चलता रहेगा. उनके कुछ साथियों ने उनके ट्विटर एकाउंट को अलग रूप में जिंदा रखने का फैसला किया है. कलाम के सहयोगी और पूर्व वैज्ञानिक सलाहकार सृजन पाल सिंह फिलहाल इस अकाउंट को चला रहे हैं. 

‘यादों’ को जिंदा रखने के लिए साथियों ने किया फैसला
उनके करीबी साथियों की एक टीम ने उनके आधिकारिक ट्विटर एकाउंट को जारी रखने का फैसला किया है, जिसका नाम अब बदलकर ‘इन मेमोरी ऑफ डॉ. कलाम’ कर दिया गया है. कलाम के एक साथी सृजन पाल सिंह ने एक ट्वीट में कहा, ‘डॉ. कलाम की दो अमर यादों को समर्पित करते हुए इस एकाउंट में उनके विचारों, उनके सबक और मिशनों को प्रदर्शित किया जाएगा। सर आप बहुत याद आएंगे.’

ट्विटर एकाउंट पर नजर आएंगे कलाम के प्रेरणादायी विचार
सिंह उनके ट्विटर एकाउंट के एडमिनिस्ट्रेटर के रूप में काम करेंगे और कलाम द्वारा दिए गए भाषणों व विंग्स ऑफ फायर, इंडिया 2020 व इगनाइट माइंड्स जैसी किताबों में से प्रेराणादायी विचारों को साझा करते रहेंगे. कलाम और सिंह एक अन्य किताब ‘एडवांटेज इंडिया’ से सह लेखक के तौर पर जुड़े रहे हैं. इस किताब को इसी साल रिलीज किया जाना है.

‘कलाम सर’ कर रहा है खासा ट्रेंड
फरवरी 2011 से कलाम देश के सामने मौजूद समकालीन मुद्दों पर अपने विचारों को पोस्ट करते रहे हैं, साथ ही ट्विटर पर प्रेरणादायी संदेश देते रहे हैं. उनके माइक्रोब्लॉगिंग साइट्स पर 14 लाख फॉलोवर हैं. भारत में बीती रात से हैशटैग ‘कलाम सर’ खासा ट्रेंड कर रहा है.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App