नई दिल्ली. संसद के मॉनसून सत्र के दूसरे दिन बुधवार को बहुजन समाज पार्टी की नेता मायावती ने ललित मोदी विवाद में फंसी विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और राजस्थान की सीएम वसुंधरा राजे के इस्तीफे की मांग मजबूती के साथ उठाई. उधर सरकार की तरफ से जवाब देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि राज्यों से जुड़े मुद्दे केंद्र के अंतर्गत नहीं आते इसलिए उन पर राज्यसभा में चर्चा करना बेकार है. 

मायावती ने स्पष्ट कहा कि सुषमा और वसुंधरा ने अपने पद का गलत इस्तेमाल करके ललित मोदी को फायदा पहुंचाया है और पीएम नरेंद्र मोदी की इस मसले पर चुप्पी और शक पैदा करने वाली है. व्यापम पर बहस की मांग को लेकर जारी विपक्ष के हंगामे के बाद राज्यसभा को भी 12 बजे तक के लिए स्थगित कर दिया गया है. 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App