नई दिल्ली. दिल्ली के उपराज्यपाल नजीब जंग ने दिल्ली महिला आयोग में अध्यक्ष के तौर पर स्वाति मालीवल की नियुक्ति रद्द कर दी है. इसी के साथ दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल द्वारा दी गई इफ्तार पार्टी में दिखी मिठास फिर खटास में बदल गई है. उपराज्यपाल के कार्यालय की ओर से इस मामले में कहा जा रहा है कि दिल्ली सरकार ने फ़ाइल भेजकर नई अध्यक्ष की नियुक्ति के संबंध में उनसे मंज़ूरी नहीं ली. वहीं, दिल्ली सरकार का कहना है कि ये नियुक्ति एलजी के अधिकार में नहीं आती.

स्वाति मालीवल जयहिन्द ने हाल ही में पदभार ग्रहण किया है. स्वाति मालीवल जयहिन्द दिल्ली सीएम केजरीवाल की करीबी रही हैं और 2007 से उनके साथ काम करती रही हैं और फिलहाल दिल्ली सरकार में मुख्यमंत्री के सलाहकार के पद पर हैं. आरोप यह भी लगे कि स्वाति, केजरीवाल की रिश्तेदार हैं लेकिन खुद मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने इसका खंडन किया.

उल्लेखनीय है कि स्वाति मालीवल पार्टी के हरियाणा के नेता अरुण जयहिन्द की पत्नी हैं और दंपती केजरीवाल के साथ आंदोलन में सक्रिय रही है. केजरीवाल का जब योगेंद्र यादव के साथ विवाद हुआ था तब भी अरुण जयहिन्द ने तमाम वार यादव पर किए थे. बताया यह भी गया कि अरुण जयहिन्द की वजह से ही पार्टी के दोनों वरिष्ठ नेताओं के बीच में मतभेद पनपे और दरार इतनी बढ़ी की आम आदमी पार्टी ने योगेंद्र यादव को पार्टी से निष्कासित कर दिया.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App