नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी की सरकार के 100 दिन पूरे होने के अवसर आज शाम 5 बजे कनॉट प्लेस के सेंट्रल पार्क में एक ओपन कैबिनेट मीटिंग का आयोजन किया गया है. इस कार्यक्रम को ‘जन संवाद’ नाम दिया गया है. इसमें मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया समेत सभी मंत्री, पार्टी के विधायक और वरिष्ठ नेता मौजूद रहेंगे. इस ओपन कैबिनेट को आम जनता के लिए भी ओपन रखा गया है.
 
इस कार्यक्रम में आम आदमी पार्टी की सरकार द्वारा 100 दिनों में किए गए कामकाज का ब्यौरा जनता को दिया जाएगा. भविष्य की योजनाओं पर भी चर्चा की जाएगी. लोग मंत्रियों से सवाल-जवाब भी कर सकेंगे. जन संवाद कार्यक्रम में दिल्ली की जनता भी शामिल होगी. इस जन संवाद में केजरीवाल सरकार के 100 दिनों में किए गए कामकाज का ब्यौरा देंगे. कार्यक्रम में दिल्ली की जनता अपने मंत्रियों से सीधे सवाल-जवाब भी कर सकेगी.
 
केजरीवाल इस कार्यक्रम में भविष्य की योजनाओं की चर्चा भी करेंगे.  केजरीवाल की ओपन कैबिनेट मीटिंग को लेकर विवाद भी हो गया है. दिल्ली पुलिस ने कहा अरविंद केजरीवाल ने कनॉट प्लेस में कार्यक्रम के लिए इजाजत नहीं मांगी है. कनॉट प्लेस के सेंट्रल पार्क में आज होने वाली आप की रैली से पहले एनडीएमसी ने कहा कि वह इसकी तैयारियां कर रही हैं और कार्यक्रम की मंजूरी एवं सुरक्षा व्यवस्था के लिए उसने दिल्ली पुलिस से संपर्क किया है.
 
पुलिस ने पूर्व में कहा था कि सुरक्षा व्यवस्था के लिए अनुरोध दिल्ली सरकार को एनडीएमसी के माध्यम से नहीं बल्कि सीधे करना चाहिए था लेकिन रविवार को उसने कहा कि मंजूरी को लेकर काम चल रहा है. एनडीएमसी के एक वरिष्ठ अधिकरी ने कहा, ‘‘दिल्ली सरकार से बात करने के बाद हमने कार्यक्रम के लिए अनापत्ति प्रमाणपत्र को लेकर नयी दिल्ली के डीसीपी को लिखा है और जरूरी व्यवस्थाएं कर रहे हैं जिसे लेकर उन्होंने जवाब दिया था कि चूंकि यह दिल्ली सरकार का कार्यक्रम है, एनडीएमसी के माध्यम से नहीं बल्कि पुलिस से सीधे बातचीत की जानी चाहिए थी.’’

एनडीएमसी ने हालांकि पुलिस से कहा कि पूर्व में इसी तरह की प्रक्रिया का पालन करने के बाद कई कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं. यह पूछे जाने पर कि क्या कार्यक्रम को मंजूरी दी गयी है, नयी दिल्ली के डीसीपी विजय सिंह ने कहा, ‘‘कार्यक्रम कल है और काफी समय है. प्रक्रिया चल रही है.’’

IANS

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App