नई दिल्ली. मोदी सरकार 26 मई को सत्ता में अपना एक साल पूरा करने जा रही है. इस मौके पर मोदी सरकार एक रिपोर्ट कार्ड जारी करने जा रही है जिसमें बीते एक साल की उपलब्धियों और योजनाओं का जिक्र होगा. रिपोर्ट कार्ड बुकलेट की शक्ल में होगा जिसे ‘संवाद’ नाम दिया गया है. मोदी सरकार में अरुण जेटली, राजनाथ सिंह और सुषमा स्वराज जैसे बड़े मंत्री एक साल पूरा होने पर मोदी सरकार का रिपोर्ट पेश करने वाले हैं.

दिल्ली में प्रत्येक दिन बड़े मंत्रियों द्वारा 8-10 प्रेस कॉन्फ्रेंस की योजना है. 22 मई को जेटली सरकार की उपलब्धियों का एक विस्तृत रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कैंपेन की शुरुआत करेंगे. आपको बता दें कि ऐडमैन पीयूष पांडे ने मोदी सरकार की पहली सालगिरह के लिए कुछ नारे तैयार किए हैं. इनमें ‘साल एक-शुरुआत अनेक’ और ‘मोदी सरकार-विकास लगातार’ जैसे नारे शामिल हैं. सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय सभी मंत्रालयों से उपलब्धियों का डाटा एकत्र कर रहा है. विशेषज्ञों और सोशल मीडिया के जानकारों की राय भी ली जा रही है. 

रिपोर्ट कार्ड करीब 500 पेज का है और माना जा रहा है की पीएमओ इसी हफ्ते इसका विश्लेषण करेगा। रिपोर्ट तैयार करने के लिए विभागीय सचिव सात बार मीटिंग कर चुके हैं। हालांकि रिपोर्ट कार्ड में 11 मंत्रालयों के कामों का ही जिक्र होगा. ऐसा इसलिए होगा क्योंकि कई मंत्रालय ऐसे हैं जिनकी योजनाएं शुरू हुए अभी कुछ महीने ही हुए हैं, और फिलहाल उनके काम का आकलन करना संभव नहीं है. कोल ब्लॉक आवंटन और व्यापारिक पारदर्शिता जैसे कुछ काम ऐसे हैं जिनको पूरी तरह लागू करने में अभी कुछ महीने और लगेंगे. कृषि, वित्त, सामाजिक और श्रम भी ऐसे ही कुछ मंत्रालय हैं जहां परिणाम इतनी जल्दी सामने नहीं आ सकते. यहां योजनाएं शुरू तो हो गईं हैं लेकिन इनका सामाजिक प्रभाव कुछ समय बाद ही सामने आ पाएगा.

25 करोड़ प्रतियांसरकार का यह रिपोर्ट कार्ड एक बुकलेट के रूप में सामने आएगा, जिसके कवर पेज पर ‘साल एक-शुरुआत अनेक’ वाला नारा होगा. बुकलेट की करीब 25 करोड़ प्रतियां होंगी जिन्हें पंचायतों और सरकारी विभागों में बंटवाया जाएगा. माना जा रहा है कि बुकलेट में 300 उपलब्धियों का जिक्र होगा जिनमें विदेश मंत्रालय के ‘ऑपरेशन राहत’ का भी उल्लेख किया जाएगा. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार को ‘सूट-बूट वाली सरकार’ बताकर घेरने की कोशिश कर रहे हैं. इस रिपोर्ट कार्ड में किसानों और ग्रामीण विकास पर सरकार की योजनाओं का जिक्र प्रमुखता से किया जाएगा. स्वच्छ भारत अभियान को बुकलेट में अहम स्थान मिलेगा.

IANS से भी इनपुट