Friday, December 9, 2022
गुजरात नतीजे (182/182)  हिमाचल नतीजे (68/68) 
BJP - 156 BJP - 25
AAP - 05 CONG - 40 
CONG - 17  AAP - 00
OTH - 04  OTH - 03 
fire

गाज़ियाबाद: शार्ट सर्किट से गोदाम में लगी भीषण आग

0
गाज़ियाबाद. गाज़ियाबाद के गोदाम में भीषण आग लग गई है. यहाँ, शार्ट सर्किट के चलते गोदाम में भीषण आग लग गई. ये गाज़ियाबाद के...
Is gold is going to extinct from world

क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना?

0
क्या ख़त्म होने वाला है सारी दुनिया का सोना? सोने का इस्तेमाल आम इंसानों से लेकर दुनिया भर की सरकारें करती हैं। सोने के बग़ैर...

UP Crime: बीवी ने दोबारा सेक्स करने पर जताया ऐतराज़ तो पति ने गला...

0
UP Crime: उत्तर प्रदेश के अमरोहा ज़िले से रिश्तों को तार-तार करने वाला वाकया निकलकर सामने आ रहा है. जहाँ पर एक पति ने...

दिल्ली: कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, MCD चुनाव जीतने वाले पार्षद AAP में शामिल

0
नई दिल्ली. एमसीडी चुनाव के नतीजे आ गए हैं. एमसीडी में आम आदमी पार्टी को पूर्ण बहुमत मिली है. दिल्ली नगर निगम चुनाव के...
MG 4 EV

नए साल पर पेश होने वाली है ये इलेक्ट्रिक कार, मिलेगी 452km की रेंज!

0
MG 4 EV: देश की कार कंपनी एमजी मोटर इंडिया (MG Motor India) अगले साल के आगाज़ में एकदम नई इलेक्ट्रिक कार पेश करेगी।...

फेक न्यूज को लेकर मोदी सरकार का बड़ा एक्शन, एक पाकिस्तानी समेत 8 यूट्यूब चैनलों को किया गया ब्लॉक

मोदी सरकार का बड़ा एक्शन:

नई दिल्ली। केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने आज बड़ा एक्शन लेते हुए दुष्प्रचार फैलाने के लिए कई भारतीय और एक पाकिस्तानी यूट्यूब न्यूज चैनलों ब्लॉक किया है। सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय ने भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा, विदेशी संबंधों और सार्वजनिक व्यवस्था से संबंधित दुष्प्रचार फैलाने के लिए 8 यूट्यूब चैनलों के खिलाफ कार्रवाई की है।

एक पाकिस्तानी, 7 भारतीय चैनल

जानकारी के मुताबिक ब्लॉक किए गए यूट्यूब चैनल में 7 भारतीय और 1 पाकिस्तान स्थित यूट्यूब चैनल है। इन्हें आईटी नियम, 2021 के तहत ब्लॉक किया गया है। ब्लॉक यूट्युब चैनलों को 114 करोड़ से ज्यादा बार देखा गया और इन चैनल्स के साप कुल 85 लाख 73 हजार सब्सक्राइबर हैं।

ब्लॉक करने का कारण बताया

बता दें कि इन चैनल को ब्लॉक करने का कारण बताया गया कि ये भारत में दहशत पैदा करने, सार्वजनिक व्यवस्था को बिगाड़ने और सांप्रदायिक विद्वेष भड़काने वाले कंटेंट अपने दर्शकों को परोस रहे थे। इसके साथ ही इन चैनलों में चलाई जा रही खबरें असत्यापित थी।

पहले भी हो चुकी है ऐसी कार्रवाई

गौरतलब है कि इससे पहले भी सरकार ने इस तरह की कार्रवाई की थी। 25 अप्रैल 2022 को मोदी सरकार ने 16 यूट्यूब चैनलों को ब्लॉक किया था। उन चैनल्स में 10 भारतीय जबकि 6 पाकिस्तान बेस्ड चैनल शामिल थे। इन चैनल को भी आईटी रूल्स 2021 के तहत ब्लॉक किया गया था।

बिहार में अपना CM चाहती है भाजपा, नीतीश कैसे करेंगे सियासी भूचाल का सामना

Latest news