पटना.  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पूर्व सीएम और जेडीयू नेता जीतनराम मांझी को मुख्यमंत्री बनाना जीवन की सबसे बड़ी राजनीतिक भूल बताया है. नीतीश ने एक निजी न्यूज़ चैनल से बातचीत में दूसरी सबसे बड़ी भूल बीजेपी के साथ मिलकर सरकार बनाने को बताया. नीतीश ने कहा कि जिन्हें मैंने खड़ा किया, पहचान दिलाई वे ही आज मेरी जड़ खोद रहे हैं. 
 
नीतीश ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा कि उनके पास ताकत है, सत्ता में हैं इसलिए कुछ भी कह सकते हैं, घोषणा कर सकते हैं. उनमें एक धार्मिक उन्माद पैदा करने की उनमें शक्ति है और समाज जो विभाजन करने की जो शक्ति है. जिस तरह से उन्होंने लोगों को जातियों में बांटना शुरु किया. उन्होंने कहा कि बिहार में कोई बड़ा सांप्रदायिक दंगा नहीं करा सकते चूंकि हम लोग बहुत अलर्ट हैं. समाजिक और प्रशासनिक दो स्तर पर अलर्ट हैं. हम देख रहे हैं कि ट्रेंड है कि वो छोट-मोटे झगड़े कराते हैं. अब वो यहां पर चले गए हैं कि चलो एक गांव का झगड़ा दो-तीन गांवों पर असर करेगा, 2-3 हजार का वोट एक विधानसभा के क्षेत्र में मैटर करत है तो चलो 2-3 हजार वोट को ही इस लाइन पर पोलराइज कर दूं. एक-एक चीज हम लोग देख रहे हैं.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App