बॉलीवुड डेस्क, मुंबई. बिग बॉस 13 के चौथे एपिसोड यानी 3 अक्टूबर के शो में बीबी हॉस्पिटल जारी रहा. इस दौरान शेफाली बग्गा और सिद्धार्थ शुक्ला की जबरदस्त लड़ाई हुई. शो की शुरुआत लव यू जिंदगी गाने के साथ हुई. जिसके बाद बिग बॉस में बी बी हॉस्पिटल टास्क सिद्धार्थ शुक्ला की टीम को करना था. जिसमें सबसे पहले हॉस्पिटल टास्क के लिए बिग बॉस ने असीम रियाज और आरती सिंह को चुना. सिद्धार्थ की टीम ने पहले चरण के लिए पारस और शेफाली बग्गा को चुना. इन दोनों के लिए कान का इलाज करना था.

बिग बॉस हॉस्पिटल टास्क में स्किन इलाज के लिए सिद्धार्थ शुक्ला और कोएना मित्रा को भेजा गया. इस दौरान सिद्धार्थ शुक्ला ने माहिरा शर्मा और शहनाज गिल को चुना गया. दोनों ने बहुत शानदार तरीके से इस टास्क को चुना. वहीं अगल चरण के लिए रागिन और सिद्धार्थ डे को हॉस्पिटल इंचार्ज के तौर पर चुना गया और अंत में देबोलीना और दिलजीत कौर को भेजा गया.

बी बी हॉस्पिटल में टीम 1 के 0 और टीम बी एक प्वाइंट के साथ जीती. पारस, शहनाज गिल, माहिरा शर्मा, देवोलीना भट्टाचार्य ने ये टास्क जीता. इस टास्क की शर्त यह थी कि विजेता टीम की एक लड़की को क्वीन का दर्जा मिलेगा जिसे अगली नॉमिनेशन से छूट मिलेगी और अलग बाथरूम और घर के कामकाज नहीं करना पड़ेगा. इस टास्क के दौरान घरवालों ने देवोलीना भट्टाचार्य का नाम चुना. लेकिन शेफाली ने कहा कि उन्हें इससे सहमति नहीं है.

शेफाली ने खुद को क्वीन बनने के लिए कहा लेकिन टीम बी ने देवोलीना भट्टाचार्य का नाम चुना. लेकिन आपसी सहमति न बनने की वजह से बिग बॉस ने ये प्रक्रिया रद्द कर दी और ये भी ऐलान किया कि इस हफ्ते बिग बॉस की क्वीन कोई भी नहीं बन पाएंगी. जिसके बाद सभी घरवालों ने शेफाली को घेरा और उन्हें इस प्रक्रिया के रद्द हो जाने का दोषी ठहराया. हालांकि शेफाली ने बाद में अपना फैसला बदलने का इरादा बनाया.

Sonam Kapoor Cute Photos: सोनम कपूर के नए लुक को देख फैंस हुए मदहोश, देखें लेटेस्ट फोटो

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर