नई दिल्ली/ होली की खुमारी धीरे-धीरे बढ़ती जा रही है. होली का त्योहार फागुन माह के आगमन पर होली मनाई जाती है इसलिए इसका एक और नाम फग्वाह भी रखा गया है. होली भारत का बहुत ही लोकप्रिय और हर्षोल्लास से परिपूर्ण त्यौहार है. लोग चन्दन और गुलाल से होली खेलते हैं. प्रत्येक वर्ष मार्च माह के आरम्भ में यह त्यौहार मनाया जाता है. लोगों का विश्वास है कि होली के चटक रंग ऊर्जा, जीवंतता और आनंद के सूचक हैं. इस होली पर आपके जश्न में ये भोजपुरी गाने चार चांद लगा देंगे. तो सुनिए भोजपुरी के ये 10 स्पेशल होली के गाने.

नाही सलवार रंगब नाही समीज हो……

लहे लहे रंगब सलवार…..

बुरा ना मानो होली हैं…….

भतर एहे होली के बाद….

दुई रुपया…..

लहंगवा लस लस करता…..

होल्लरी……

जादो जी के होली…..

यादव जी के होली…….

लहंगवा लस लस करता……

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर