भारत पर्व

भारत पर्व

ऋषि-मुनियों की लंबी उम्र के पीछे छुपे हैं ये सारे राज

नई दिल्ली. यह सच है कि लंबी उम्र जीना आज एक बड़ा सवाल बना हुआ है. आज ऐसे हालात बन गए है कि लोग बीमारियों में घिरे रहते हैं और....

छप्पन भोग से खुश होते हैं भगवान कृष्ण, परोसे इस तरह से

नई दिल्ली. भगवान श्री कृष्ण की अराधना करने के लिए उन्हें छप्पन भोग लगाया जाता है. हिन्‍दू मान्यता के अनुसार, भगवान श्रीकृष्‍ण एक दिन में आठ बार भोजन करते थे.....

जानिए सूर्य को क्यों मानते हैं देवता ?

नई दिल्ली. वेदों में सूर्य को जगत की आत्मा कहा गया है. समस्त चराचर जगत की आत्मा सूर्य ही है. सूर्य से ही इस पृथ्वी पर जीवन है, यह आज....

जानिए विष्णु पुराण में मानव संबंधी नियम क्या है

नई दिल्ली. सुख, शांति और समृद्धि बनी रहे, इसके लिए शास्त्रों में कई नियम बताए गए हैं. इन नियमों में बताया गया है कि हमें किस समय कौन से काम....

यहां हनुमान जी की पूजा उनकी पत्नी के साथ होती है

नई दिल्ली. हनुमान जी को बाल ब्रह्मचारी माना जाता है इसलिए हनुमान जी लंगोट धारण किए हर मंदिर और तस्वीरों में अकेले दिखते हैं. कभी भी अन्य देवताओं की तरह....

क्या वाकई परशुराम विष्णु के अवतार थे

नई दिल्ली. भगवान परशुराम विष्णु के छठवें अवतार हैं. ये चिरंजीवी होने से कल्पांत तक स्थायी हैं. इनका जन्म समय सतयुग और त्रेता का संधिकाल माना जाता है.   मानव....

जानिए, 21 मिनट में कलयुग से जुड़ा रहस्य?

नई दिल्ली. श्रीमद्भागवत पुराण हिन्दू समाज का सर्वाधिक आदरणीय पुराण है. यह वैष्णव सम्प्रदाय का प्रमुख ग्रन्थ है. इस ग्रन्थ में वेदों, उपनिषदों तथा दर्शन शास्त्र के गूढ़ एवं रहस्यमय....

भगवान शिव ने भी लिए कई अवतार, निभाई अहम भूमिकाएं

नई दिल्ली. भगवान के अवतारों के बारे में जाने के लिए अक्सर लोगों में जिज्ञासा देखी जाती है और यह तो और भी रुचि का मुद्दा है कि देवों के....

जानिए, घर की सुख और समृद्धि के लिए क्यों जरुरी है वास्तुशास्त्र

नई दिल्ली.  किसी भी घर के निर्माण से पहले वास्तुदेव की पूजा आवश्यक होती है. घर को वास्तु के अनुसार रखने से घर में आंतरिक खुशी और समृध्दि आती है.हमारे....

क्या आप मृत्यु का रहस्य जानते हैं ?

नई दिल्ली. जीवन जितना प्यारा होता है, मृत्यु भी उतना ही आवश्यक है. जीवन-मृत्यु का यह सफर चलता ही रहता है लेकिन मृत्यु का राज आजतक किसी को समझ में....

ज्ञान से दूर हो जाएगी आपकी समस्याएं

नई दिल्ली. जीवन जीने के लिए हमें ज्ञान की जरूरत पड़ती है. समाज में जितने भी दोष बढ़ रहे हैं वह ज्ञान की कमी के कारण है. इंडिया न्यूज शो....

सिद्दि का आधार है शक्ति

नई दिल्ली. सिद्दि का आधार शक्ति माना गया है. संसार का कोई भी उद्योग, कोई भी पुरूषार्थ और कोई भी कार्य शक्ति के बिना नहीं किया जा सकता.कोई बड़ा ही....

एक ही सपने का संसार कर तो नहीं रहा आपको बीमार ?

नई दिल्ली. सपना का एक संसार होता है जहां कभी-कभी हमारा अचेत मन हमें लेकर चला जाता है. सपनों के संसार की भाषा सांकेतिक होती है. इसलिए प्राचीन काल में....

क्या अब तक थे चंद्रमा के वैज्ञानिक महत्व से अनजान

नई दिल्ली. ग्रहों में सबसे अधिक गति से चलने वाला चंद्रमा मन का प्रतिनिधित्व करता है. चन्द्र को काल पुरुष का मन कहा गया है. चन्द्र माता, मन ,मस्तिष्क ,बुद्धिमता....

साधु-संत केसरिया रंग के ही वस्त्र क्यों धारण करते हैं ?

नई दिल्ली. आमतौर पर किसी भी साधु, ऋषि, मुनि या मंदिर के पंडित को केसरी वस्त्र में ही देखा जाता है. यह रंग हिन्दू धर्म को दर्शाता है. हिन्दू मान्यताओं....

भोजन शास्त्र से थे अब तक अनजान, होते हैं इसके बहुत फायदे

नई दिल्ली. ऐसा कोइ भी पदार्थ जो कार्बोहाइड्रेट, जल तथा प्रोटीन से बना हो और जीव जगत द्वारा ग्रहण किया जा सके, उसे भोजन कहते हैं. जीव न केवल जीवित....

महिलाएं क्यों करती हैं 16 श्रृंगार और क्या है इसका महत्व ?

नई दिल्ली. सुंदर दिखने के लिये स्त्रियाँ कई तरह के सौंदर्य-प्रसाधन उपयोग करती हैं. औरतों के सजने-सँवरने को श्रृंगार कहते हैं. मौका अगर विवाह का हो तो औरतें 16 श्रृंगारों....

यहां प्रसाद के रूप में मिलता है चूहे का जूठा खाना

नई दिल्ली. मंदिर ध्यान लगाने या प्रार्थना करने के लिए होते है. मंदिर के स्तंभों या दीवारों पर ही मूर्तियां बनाई जाती थीं ताकि मंदिरों में शांति से पूजा-पाठ हो सके.....

पूजा में नारियल चढ़ाना क्यों है अनिवार्य

नई दिल्ली. भारतीय धर्म और संस्कृति में नारियल का बहुत महत्व है. नारियल को श्रीफल भी कहा जाता है. मंदिर में नारियल फोड़ना या चढ़ाने का रिवाज है. ऊर्जा का भंडार-....

योग क्यों जरूरी है मन की शांति के लिए

नई दिल्ली. आधुनिक युग में योग का महत्व बढ़ गया है. इसके बढ़ने का कारण व्यस्तता और मन की व्यग्रता है. आधुनिक मनुष्य को आज योग की ज्यादा आवश्यकता है,....

किस गांव में हनुमान जी की पूजा वर्जित है

नई दिल्ली. हनुमान जी को बाल ब्रह्मचारी माना जाता है इसलिए हनुमान जी लंगोट धारण किए हर मंदिर और तस्वीरों में अकेले दिखते हैं. कभी भी अन्य देवताओं की तरह....

शिव और कामदेव की कथा का वैज्ञानिक विश्लेष्ण

नई दिल्ली. शिव और पार्वती से संबंधित एक कथा के अनुसार हिमालय पुत्री पार्वती चाहती थीं कि उनका विवाह भगवान शिव से हो जाये पर शिवजी अपनी तपस्या में लीन....

कैसे प्राप्त कर सकते हैं गर्भ में ही अभिमन्यु जैसा तीव्र और बलवान बच्चा

नई दिल्ली. हर माता-पिता का सपना होता है की उसका बच्चा अभिमन्यु की तरह दिमाग का तेज और गुणवान हो. लेकिन यह इतना आसान नहीं होता इसके लिए माता पिता....

क्यों किया जाता है सुंदरकांड का पाठ?

नई दिल्ली. गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित श्रीरामचरितमानस के सुंदरकांड का पाठ अक्सर शुभ कार्यों की शुरुआत से पहले किया जाता है. सुंदरकांड एकमात्र ऐसा अध्याय है जो श्रीराम के भक्त....

भारत पर्व: धर्म ग्रंथ में ग्रहण को लेकर बहुत से नियम, जानिए

नई दिल्ली. हमारे धर्म ग्रंथ में ग्रहण को लेकर बहुत सी नियम बताए गए है. लेकिन हर नियम को मानना आसान नहीं है क्योंकि बहुत से नियम घर में करना....

क्या कलयुग के बाद सृष्टि का अंत हो जाएगा ?

नई दिल्ली. हिंदू धर्म के अनुसार कलयुग के अंत के बाद प्रलय का दिन आएगा, जब सब कुछ समाप्त हो जाएगा, पूरी दुनिया विनाश के साए में सिमट जाएगी. समय-समय....

जानिए, कर्णवेध संस्कार का आपके जीवन में क्या योगदान है

नई दिल्ली. सनातन अथवा हिन्दू धर्म की संस्कृति संस्कारों पर ही आधारित है. हमारे ऋषि-मुनियों ने मानव जीवन को पवित्र एवं मर्यादित बनाने के लिये संस्कारों का अविष्कार किया. धार्मिक....

जानिए, क्यों होता है सूर्यग्रहण और इससे जुड़े रहस्य?

नई दिल्ली. भारतीय ज्योतिष में ग्रहणों का बहुत महत्व है क्योंकि उनका सीधा प्रभाव मानव जीवन पर देखा जाता है. जब घूमते-घूमते चन्द्रमा, सूरज व पृथ्वी एक ही सीध में....

भारत पर्व: जानिए भगवान क्यों लेते हैं अवतार !

नई दिल्ली. जब जब धरती पर धर्म पर बुराई के बादल छाने लगते है तब तब भगवान अवतार के रुप में प्रकट हो कर अच्छाई पर बुराई की जीत को....

अपने धर्म-संस्कृति को जानिए, स्वंय को पहचानिए

नई दिल्ली.  ऐसा माना जाता है कि ज्योतिष के माध्यम से शुभ कार्य की शुरुआत करने का ज्ञान ही लिया जाता है लेकिन ज्योतिष चमत्कार नहीं विज्ञान है.   ज्योतिष....