नई दिल्ली. राम (रामचन्द्र), प्राचीन भारत में अवतरित, भगवान थे. हिन्दू धर्म में, राम, विष्णु के 10 अवतारों में से सातवें हैं. राम का जीवनकाल एवं पराक्रम, महर्षि वाल्मीकि द्वारा रचित, संस्कृत महाकाव्य रामायण के रूप में लिखा गया है. उन पर तुलसीदास ने भी भक्ति काव्य श्री रामचरितमानस रचा था. खास तौर पर उत्तर भारत में राम बहुत अधिक पूजनीय माने जाते हैं. रामचन्द्र हिन्दुत्ववादियों के भी आदर्श पुरुष हैं.
 
लेकिन राम का जन्म कैसे हुआ था, इसके पीछे क्या कहानी थी. राम के साथ साथ सीता का जन्म कैसे हुआ था, हनुमान जी कैसे इस धरती पर आए थे. ये सब आपको बताएंगे आध्यात्मिक गुरु पवन सिन्हा इंडिया न्यूज़ के खास कार्यक्रम भारत पर्व में.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App