नई दिल्ली: मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव ने मैनचेस्टर यूनिवर्सिटी से मास्टर्स किया है. अपर्णा यादव को भले ही दुनिया सियासी परिवार से रिश्ते की वजह से जानती हो लेकिन उनकी असली पहचान संगीत है. संगीत ने अपर्णा को प्रतीक जैसा जीवन साथी दिया तो इसी संगीत के सहारे सियासी दंगल जीतने की तैयारी कर रही हैं. अपर्णा राजनीति के साथ समाज सेवा में सक्रिय हैं.
 
अपर्णा जीव आश्रय नाम का NGO भी चलाती हैं साथ ही गाय की देख-भाल के लिए कान्हा उपवन में गौशाला है. महिलाओं के लिए भी सामाजिक कार्य करती हैं. साल 2011 में प्रतीक यादव से अपर्णा की शादी हुई थी.
 
मुलायम सिंह की छोटी बहू छब्बीस साल की अपर्णा यादव लखनऊ कैंट से समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार हैं. इसी लखनऊ कैंट इलाके में अपर्णा का जन्म हुआ और इसी इलाके से वो विधायक बनकर राजनीतिक पारी शुरू करने की तैयारी कर रही हैं.
 
शास्त्रीय संगीत में निपुण अपर्णा मूल रूप से उत्तराखंड की रहने वाली हैं. इनके पिता अरविंद सिंह बिष्ट बड़े पत्रकार रहे हैं. मुलायम के छोटे बेटे प्रतीक से प्यार की कहानी भी काफी दिलचस्प है.
 
कैसे हुई प्रतीक अपर्णा यादव की शादी?
प्रतीक की मां साधना के बर्थडे के दिन पहली बार साल 2003 में अपर्णा को प्रतीक ने देखा था. प्रतीक की मां के कहने पर अपर्णा ने बर्थडे के मौके पर गीत गाया. इसी गीत के बाद दोनों की दोस्ती गहरी हो गई.
 
प्रतीक ने इसके बाद मेल पर अपर्णा को ढेर सारे मैसेज भेजे थे. करीब पंद्रह दिन बाद अपर्णा ने प्रतीक के मैसेज पढे. उस वक्त अपर्णा दसवीं की पढ़ाई कर रही थी. आठ साल तक दोनों का प्यार बढ़ता रहा और फिर साल 2011 में परिवार की मंजूरी के बाद दोनों ने शादी कर ली.
 
अपर्णा के पति प्रतीक शुद्ध रूप से व्यापारी हैं. खुद बॉडी बिल्डर हैं और लखनऊ के सबसे बड़े जिम के मालिक भी. अपर्णा शुद्ध रूप से पारिवारिक, अध्यात्मिक और सामाजिक महिला हैं. परिवार का ख्याल रखने के साथ ही रोज शाम को एक घंटा पूजा करना अपर्णा नहीं भूलती.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर