नई दिल्ली: आज हम ऐसी शख्सियत की बात कर रहे हैं जिसका नाम सुनते ही  अपराधी, गुंडे और माफियाओं की पैंट गिली हो जाती है. इस शानदार शख्सियत पर बन चुकी है कई फिल्में साथ ही लोग इन्हें ‘लेडी सिंघम’ के नाम से जानते हैं.
 
जी हां हम बात कर रहे हैं मंजिल सैनी की जो देश की पहली विवाहित आईपीएस ऑफिसर हैं. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में इतिहास में पहली बार महिला एसएसपी की तैनाती की गई है. बुधवार को लखनऊ की नई एसएसपी मंजिल सैनी ने चार्ज संभाल लिया. इसके पहले मंजिल सैनी इटावा में बतौर एसएसपी तैनात थी.
 
मंजिल सैनी आजादी के बाद से उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पद पर पहली महिला अफसर तैनात हो गई हैं. लेडी सिंघम के नाम से मशहूर मंजिल सैनी पुलिस के तेज तर्रार अधिकारियों में गिनी जाती हैं.
 
मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के गृह जनपद इटावा में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक के पद पर तैनात सुश्री मंजिल सैनी को अब लखनऊ की एसएसपी बनाया गया था. इसके पहले लखनऊ के एसएसपी राजेश पांडेय थे जिन्हे फिलहाल डीजीपी ऑफिस से अटैच कर दिया गया है.
 
इकोनॉमिक्स में गोल्ड मेडल 
मंजिल सैनी का जन्म 19 सितंबर 1975 को दिल्ली में हुआ था. उन्होने अपनी शुरूआती पढ़ाई सेंट जोसेफ कॉलेज से की थी. इसके बाद मंजिल ने दिल्ली कॉलेज ऑफ इकोनॉमिक्स में टॉप कर गोल्ड मेडल हासिल किया. मंजिल 2005 बैच की आईपीएस ऑफिसर है. मंजिल सैनी उत्तर प्रदेश के बंदायू, मुजफ्फरनगर, इटावा, मथुरा समेत आधा दर्जन से भी ज्यादा जनपदों में कार्यरत रही हैं.
 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर