नई दिल्ली. हम अपने देश को प्यार से याद करते हैं, लेकिन हम भारत को पिताजी नहीं बोलते हैं. हम भारत माता कि जय बोलते हैं. भारतीय सेना भारत माता की जय बोलती है. पिता भी कह सकते थे, पर जननी से जो संबध है वो बहुत गहरा है, शरीर, मन, भावना, धर्म, संस्कृति हर दृष्टिकोण से अगर हम देखें तो स्त्रेयण शक्ति हमें कार्यन्वत होते सब जगह दिखाई देती है.
 
देश की राजधानी दिल्ली में अंतराष्ट्रीय बालिका दिवस के मौके पर एनजीओ इंडिया आई इंटरनेशन ह्यूमन राइट्स ऑब्सर्वर ने यूएन इन्फॉर्मेशन सेंटर फॉर इंडिया एंड भूटान के साथ मिलकर इंडिया इस्लामिक कल्चरल सेंटर में बेटियां नाम से कार्यक्रम आयोजित किया था.
 
इस मौके पर देश की ख्यातिप्राप्त बेटियों को पुरस्कार दिया गया. इंडिया न्यूज़ के खास कार्यक्रम बेटियां में देखिए ख्यातिप्राप्त बेटियों के वे काम जिन्होंने देश को नई दिशा दी.
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App