नई दिल्ली. पंजाब के गुरदासपुर में सुबह-सुबह बड़ा आतंकी हमला हुआ.पंजाब में ये आतंकी हमला उस वक्त हुआ, जब पूरे देश में 1993 के मुंबई सीरियल ब्लास्ट के दोषी याकूब मेमन की फांसी पर बहस गरमाई हुई है.

याकूब की फांसी माफ कराने के लिए देश के बड़े बुद्धिजीवियों और राजनेताओं ने राष्ट्रपति को याचिका भेज रखी है. दूसरी ओर ऐसे लोगों की भी कमी नहीं, जो आतंकवादी घटनाओं में दोषी पाए किसी भी शख्स को माफी देने के खिलाफ हैं.

गुरदासपुर में आतंकी हमले के बाद एक बार फिर ये सवाल बीच बहस में आ गया है कि क्या आतंकवादी थोड़ी भी नरमी के हकदार हैं ? क्या मानवता के नाम पर भी आतंकवादियों की पैरवी करना देशद्रोह नहीं है?

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App