नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने शनिवार को मेरठ में करीब सात सौ करोड़ रुपये की योजनाओं के शिलान्यास के दौरान हिंदू संत-साध्वियों को दंगा भड़काने वाल करार दे दिया. एक जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि भगवा कपड़े पहनने वाले बेहद खतरनाक होते हैं. ये लोग जनता की भावनाओं से खेलते हैं और दंगे भड़काते हैं. उन्होंने आगे कहा कि भारतीय जनता पार्टी सिर्फ झगड़ा लगवाती है. बीच बहस में आज जानते हैं कि अखिलेश की कही गई बातों में आखिर कितनी सच्चाई है और कितनी सियासत.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App