नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली में टैक्सी चालकों के प्रदर्शन की वजह से हाहाकार मच गया है. अहम सड़कों पर कई किलोमीटर लंबे जाम लग रहे हैं, तो दूसरी तरफ लोगों को टैक्सियों की बुकिंग ही नहीं मिल पा रही है.
 
दरअसल सुप्रीम कोर्ट के आदेश के तहत दिल्ली में 1 मई से डीज़ल/पेट्रोल टैक्सियों पर प्रतिबंध है. दिल्ली में अब सिर्फ सीएनजी से चलने वाली टैक्सियां ही चलेंगी. अब शर्त ये है कि टैक्सी चालकों को अपनी गाड़ियां सीएनजी में कन्वर्ट करवानी पड़ेंगी. 
 
लेकिन मुश्किल ये है कि डीज़ल से चलने वाली गाड़ियां सीएनजी में कन्वर्ट हो ही नहीं सकती. सुप्रीम कोर्ट के फैसले से 27 हजार डीज़ल टैक्सी चालकों की रोजी-रोटी प्रभावित हो रही है. सवाल ये है कि 27 हजार परिवारों को राहत कैसे देगी दिल्ली सरकार ?
 
इंडिया न्यूज के खास शो बीच बहस में पेश है इस अहम मुद्दे पर चर्चा.
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App