नई दिल्ली. जेएनयू कैंपस से जंतर-मंतर तक विपक्षी पार्टियों और उनसे जुड़े छात्र संगठनों ने आज विरोध मार्च किया. इसे नाम दिया गया था चलो दिल्ली. ये विरोध-प्रदर्शन 4 फरवरी को रोहित वेमुला के समर्थन में होना था, जो अब जेएनयू कांड के साए में हुआ.

JNU: बस्सी बोले- हालात बदलेउठा सकते है कोई भी कदम

हैदराबाद से चलो दिल्ली का नारा जेएनयू से जंतर-मंतर चलो में बदल गया. जेएनयू में देश विरोधी नारे लगाने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होनी चाहिए, ये दलील देने वाले नेता भी रोहित वेमुला और जेएनयू कांड को एक ही चश्मे से देख रहे हैं.

JNU विवाद: हाईकोर्ट बोला, पुलिस के सामने सरेंडर करें छात्र

लिहाजा ये सवाल बीच बहस में है कि जेएनयू मामले पर कानून चले या फिर राजनीति ? देशद्रोह के आरोपियों को हीरो क्यों बनाया जा रहा है ?

वीडियो में देखें पूरा शो

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App