नई दिल्ली. क्या राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी के साथ केंद्र सरकार बदले की राजनीति कर रही है? क्या राहुल के संसदीय क्षेत्र अमेठी की विकास योजनाएं इसी बदले की राजनीति के तहत एक के बाद एक बंद की जा रही हैं ? कांग्रेस की मानें तो हां, ऐसा ही है क्योंकि अमेठी को राहुल से मिली एक और सौगात खटाई में पड़ गई है. 2007 में पास हुआ जगदीशपुर पेपर मिल प्रोजेक्ट बंद होने की कगार पर है.
 
राहुल और कांग्रेस ने केंद्र सरकार पर बदले की राजनीति का आरोप लगाकर पहले ही संसद को सिर पर उठा रखा है. अब पेपर मिल प्रोजेक्ट को लेकर वे दुगनी ताकत से मोदी सरकार पर हमला करने में जुट गए हैं. कांग्रेस का हर नेता पानी पी-पीकर केंद्र सरकार को कोस रहा है.
 
आरोप लगाए जा रहे हैं कि केंद्र सरकार जानबूझकर राहुल के संसदीय क्षेत्र की विकास योजनाएं एक-एक कर बंद करती जा रही है. क्या यही पूरा सच है ? या पर्दे के पीछे का खेल कुछ और भी है ?
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो: