नई दिल्लीः हथियार बनाने वाली रूस की सबसे बड़ी कंपनी कालाशनिकोब (Kalashnikov) ने गुरुवार को अपनी इलैक्ट्रिक कार को दुनिया के सामने पेश किया है. AK-47 बनाने वाली कंपनी कालाशिनिकोब ने अपनी इस कार में नई तकनीक का इस्तेमाल किया गया है. कार एक्सपर्ट के मुताबिक ये कार एलन मस्क की टेस्ला कार को कड़ी टक्कर देगी. तो हम आपको बताने जा रहे हैं इस कार को लेकर वो हर बात जो आप जानना चाहते हैं. इस कार के नाम से लेकर इसकी खासियतों तक हम बताने जा रहे हैं हर वो बात जो इस कार को बनाती है खास किस खासियतों के चलते इसको एलन मस्क की टेस्ला को चुनौती देने वाला बताया जा रहा है.

हथियार बनाने वाली कंपनी कालाशनिकोब गुरुवार को जिस कार से पर्दा हटाया है वह फिरोजी रंग में नजर आ रही है. इस कार को मॉर्डन लुक देने के बजाय रेट्रो लुक दिया गया है जो इस कार का प्रोटोटाइप मॉडल है. कंपनी ने इस कार का नाम सीवी-1 (CV-1) रखा है. इस कार के डिजाइन की प्रेरणा 1970 में आई कार इज कोब्मी (IzH-Kombi) से ली गई है.

कालाशनिकोब की ये इलैक्ट्रिक कार की सबसे बड़ी खासियत है इसकी बैटरी पावर, एक बार फुल चार्च करने पर ये कार 350 किलोमीटर की दूरी तय कर सकती है. इस कार की मैक्सिमस पावर है 500 kW जबकि इसकी विरोधी कार का एलन मस्क की टेस्ला की मैक्सिमस 150 KW है. कंपनी ने सीवी-1 कार की टॉप स्पीड 50 मील प्रतिघंटा होने का दावा किया गया है जबकि एलन टेस्ला के मॉडल 3 इलैक्ट्रिक कार की टॉप स्पीड 140 मील प्रतिघंटा है.

कंपनी के मुताबिक सीवी-1 को 0 से 100 किलोमीटर प्रति घंटे की स्पीड पाने में इस कार को सिर्फ 6 सैकेंड लगेंगे. कंपनी के मुताबिक इस कार में नए क्रांतिकारी इनवर्टर का प्रयोग किया गया है जो इस कार की बैटरी के इलेक्ट्रिक अप्लायंसेज तक पावर पहुंचाने में मदद करता है. कंपनी अभी इस कार को तैयार कर रही है. लेकिन इस बात की जानकारी अभी नहीं दी गई की इस कार की बिक्री कर से शुरू की जाएगी.

12 शहरों में टाटा स्काई ब्रॉडबैंड की दस्तक, Jio GigaFiber को टक्कर देने के लिए दे रहे ये ऑफर

जल्द ही पेट्रोल इंजन के साथ लॉन्च होगी मारुति सुजुकी एस-क्रॉस

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App