नई दिल्ली: सुज़ुकी ने जर्मनी में आयोजित फ्रैंकफर्ट मोटर शो-2017 के दौरान स्विफ्ट स्पोर्ट से पर्दा उठाया है, यह रेग्यूलर स्विफ्ट का हाइ-परफॉर्मेंस वर्जन है. तीसरी जनरेशन की स्विफ्ट स्पोर्ट को मजबूत पर कम वज़नी हियरटेक प्लेटफार्म पर तैयार किया गया है. इसी प्लेटफार्म पर रेग्यूलर स्विफ्ट, बलेनो, डिजायर और इग्निस भी बनी है. नई स्विफ्ट स्पोर्ट का वजन 970 किलोग्राम है, पहले की तुलना में यह करीब 80 किलोग्राम कम वज़नी है.
 
 
2018 स्विफ्ट स्पोर्ट में नई ग्रिल, कार्बन-फाइबर फिनिशिंग के साथ दी गई है. इस में नया बंपर, फ्रंट लिप स्पॉइलर, साइड स्कर्ट और रियर डिफॉगर जैसे फीचर भी दिए गए हैं. पीछे की तरफ ड्यूल एग्जॉस्ट पाइप लगा है, यह फीचर मौजूदा मॉडल से लिया गया है. राइडिंग के लिए इस में 17 इंच के मशीन-कट अलॉय व्हील लगे हैं
 
 
2018 स्विफ्ट स्पोर्ट के केबिन को भी स्पोर्टी बनाया गया है, इस में जगह-जगह रेड हाइलाइटर देखे जा सकते हैं. मौजूदा मॉडल की तरह नई स्विफ्ट स्पोर्ट में भी सेमी-बकेट सीटें दी गई हैं. इस में नई स्विफ्ट वाला फ्लैट-बोटम स्टीयिरंग व्हील लगा है, जो सबका ध्यान खींचेगा. यही स्टीयरिंग व्हील मारूति सुज़ुकी डिजायर में भी दिया गया है.
 
 
नई स्विफ्ट स्पोर्ट में 1.4 लीटर बूस्टरजेट पेट्रोल इंजन दिया गया है, इसकी पावर 140 पीएस और टॉर्क 230 एनएम है. पुराने मॉडल की तुलना में इस में करीब 5 पीएस की ज्यादा पावर मिलती है. यह इंजन 6-स्पीड मैनुअल गियरबॉक्स से जुड़ा है. भारतीय बाजार की बात करें तो यहां स्विफ्ट स्पोर्ट की एक भी पीढ़ी को अभी तक लॉन्च नहीं किया गया है. तीसरी जनरेशन की स्विफ्ट स्पोर्ट को भारत में उतारा जाएगा या नहीं, इसके बारे में अभी कहना सही नहीं होगा.
 
Sources – Car Dekho
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App