नई दिल्ली : लग्ज़री कार या फिर एसयूवी खरीदने का विचार बना रहे लोगों के लिए ये काम की खबर साबित हो सकती है. दरअसल जीएसटी कांउसिंल ने एसयूवी और लग्ज़री कारों पर सेस बढ़ाने का निर्णय लिया है. ऐसे में अगर आप इन्हें खरीदने में थोड़ी सी देरी करते हैं तो यह फैसला आपकी जेब पर भारी पड़ सकती है. आइए जानते हैं कितनी महंगी होंगी लग्ज़री कारें और एसयूवी…
 
मौजूदा समय में एसयूवी और लग्ज़री कारों पर 15 फीसदी सेस लगता है, जीएसटी काउंसिल ने सेस को 15 फीसदी से बढ़ाकर 25 फीसदी करने का निर्णय लिया है. संभावना है कि नया सेस 9 सितंबर से लागू किया जा सकता है.
 
लग्ज़री कारों और एसयूवी की कैटेगरी में उन कारों को शामिल किया गया है, जिन में 1.5 लीटर या इससे ज्यादा क्षमता वाले पेट्रोल और डीज़ल इंजन दिए गए हैं. हुंडई की हाल ही में लॉन्च हुई नई वरना सेडान में 1.6 लीटर का इंजन लगा है, चर्चाएं हैं कि इसे भी लग्ज़री कारों की श्रेणी में शामिल किया जा सकता है.
 
 
जीएसटी काउंसिल के इस फैसले पर ऑडी इंडिया के हैड राहिल अंसारी का कहना है कि ‘सेस बढ़ने से लग्ज़री कारों और एसयूवी की बिक्री आधी हो सकती है. अंसारी के अनुसार इस फैसले से कंपनी और डीलरशिप के अलावा सरकार के टैक्स रिवेन्यू पर भी नकारात्समक असर देखने को मिलेगा.’
(सोर्स – कार देखो)

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App