नई दिल्ली: भारत में तैयार कारों की सुरक्षा को लेकर कंपनियां ज्यादा सजग होती जा रही हैं. देश की नंबर वन कार कंपनी मारूति ने भी इसी क्रम में सियाज़ सेडान और अर्टिगा एमपीवी को ज्यादा सुरक्षित बनाने की दिशा में कुछ कदम उठाए हैं. कंपनी का दावा है कि पहले से ज्यादा सुरक्षित ये कारें बिक्री के लिए उपलब्ध हैं.
 
 
पिछले साल सियाज़ और अर्टिगा ने आसियान एनकैप क्रैश टेस्ट में 4-स्टार रेटिंग हासिल की थी. ड्यूल एयरबैग्स, एंटी लॉक ब्रेकिंग सिस्टम और दूसरे सेफ्टी फीचर मसलन सीट बेल्ट रिमाइंडर वार्निंग के साथ ही एडजस्टेबल हैडरेस्ट की वजह से सेफ्टी टेस्ट में इनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा. गौर करने वाली बात ये है कि भारत में बिक्री के लिए उपलब्ध सियाज़ और अर्टिगा में भी यही फीचर दिए गए हैं.
 
 
 
दोनों कारें पहले से और ज्यादा सुरक्षित कैसे हुई हैं इसे लेकर कंपनी ने ज्यादा जानकारियां तो नहीं दी हैं लेकिन इतना जरूर कहा है कि इनके बॉडी स्ट्रक्चर को और मजबूत किया गया है. भारतीय कारें कितनी सुरक्षित हैं इसके लिए देश में भारत न्यू व्हीकल सेफ्टी एसेसमेंट प्रोग्राम (बीएनएसएपी) लागू होगा. इस प्रोग्राम के तहत अक्टूबर 2017 से हर नई कार का क्रैश टेस्ट कर रेटिंग दी जाएगी. नए कार सेफ्टी नियमों को देखते हुए मारूति सुज़ुकी अपनी कारों को नई सेफ्टी टेक्नोलॉज़ी से लैस कर रही है. कंपनी के नए प्रोडक्ट मसलन ब्रेज़ा, बलेनो और इग्निस को नए सेफ्टी मानकों के अनुरूप तैयार किया गया है.
 
सोर्स-Car Dekho

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App