नई दिल्लीः भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को एशिया कप की टीम में ना शामिल करने पर अपनी नाराजगी जताई है. गांगुली ने कहा कि पंत सफेद गेंद के बेहतर खिलाड़ी हैं. उनका रूख ही आक्रामक है और वह गेंदों को अच्छे से हिट करने का माद्दा रखते हैं. गांगुली ने कहा कि पंत को वन डे मैचों में शामिल करने का यह बेहतरीन मौका था लेकिन चयनकर्ताओं ने यह मौका खो दिया.

गांगुली ने कहा कि पंत को जरूर मौका मिलना चाहिए था क्योंकि वह इंग्लैंड में अच्छा करके आए थे. एशिया कप, 2019 विश्व कप से पहले प्रयोग करने की एक अच्छी प्रयोगशाला थी. यह मौका और भी बेहतर बन जाता है क्योंकि नियमित भारतीय कप्तान विराट कोहली सहित कई खिलाड़ियों को आराम दिया गया है या तो वे चोटिल हैं. टाइम्स अखबार में लिखे एक लेख में गांगुली ने लिखा कि जब तीन खिलाड़ी चोटिल हुए तो पंत को एशिया कप के लिए जरूर भेजा जाना चाहिए था.

गौरतलब है कि एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ मैच के बाद भारत के तीन खिलाड़ियों हार्दिक पांड्या, शार्दुल ठाकुर और अक्षर पटेल को चोट की वजह से बाहर होना पड़ा था. इनकी जगह पर रवींद्र जडेजा, दीपक चाहर और सिद्धार्थ कौल को टीम में शामिल किया गया लेकिन पंत की जगह टीम में नहीं बनी. इससे पहले वीरेंद्र सहवाग भी पंत को धोनी का विकल्प बता चुके हैं.

मयंक अग्रवाल को मिलेगा उनके प्रदर्शन का तोहफा, ऋषभ पंत को विकेटकीपिंग में करनी होगी कड़ी मेहनतः एमएसके प्रसाद

वीरेंद्र सहवाग ने सुझाया महेंद्र सिंह धोनी का विकल्प, ऋषभ पंत को बताया सही दावेदार

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर