नई दिल्ली. संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले 14वें एशिया कप क्रिकेट के लिए उल्टी गिनती शुरु हो चुकी है. इस बार एशिया कप में सबसे अधिक 6 टीमें भाग ले रही हैं. ऐसा तीसरी बार है जब यूएई की धरती पर एशिया कप का आयोजन किया गया हो. टीम इंडिया एशिया कप की मौजूदा चैंपियन है और उसने सबसे ज्यादा 6 बार एशिया कप जीता है. एशिया कप 2018 में भारतीय टीम की कमान रोहित शर्मा के कंधों पर है.

एशिया कप क्रिकेट एशिया महाद्वीप में खेला जाने वाला सबसे प्रतिष्ठित टूर्नामेंट है. एशिया में क्रिकेट खेलने वाले कई देशों के बीच ये प्रतियोगिता 1984 से खेली जा रही है. इस दौरान कई बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने एशिया कप में अपना जौहर दिखाया है. आइए हम आपको एशिया कप में कुछ ऐसे ही कभी न भुलाए जाने वाले तथ्यों से रूबरू कराते हैं.

एशिया कप 2012: कोहली की विराट पारी

एशिया कप 2012 में पाकिस्तान ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट पर 329 रन बनाए. पाकिस्तान की तरफ से दोनों ओपनर बल्लेबाज नासिर जमशेद और मोहम्मद हफीज ने शतक जड़े. ये भारी भरकम स्कोर भारत के लिए आसान नहीं था. टीम इंडिया का खाता भी नहीं खुला था और भारत ने अपना पहला विकेट गौतम गंभीर के रूप में गंवा दिया. यहीं से मोर्चा सचिन तेंदुलकर और विराट कोहली ने संभाला. तेंदुलकर ने अर्धशतक लगाकर आउट हुए.

उसके विराट का साथ देने रोहित शर्मा आए. इन दोनों ने भारत की पारी को आगे बढ़ाया. विराट कोहली ने पाकिस्तान के किसी भी गेंदबाज की परवाह नहीं की. उन दिन विराट का बल्ला तलवार की तरह चल रहा था. रोहित और विराट ने पाकिस्तान के गेंदबाजों के मंसूबों पर पानी फेर दिया. जहां रोहित ने 68 रनों की पारी खेली वहीं विराट ने पाकिस्तान के किसी भी गेंदबाज की परवाह नहीं की और यादगार 183 रन बनाए. विराट के इस धुआंधार पारी के चलते भारत ने पाकिस्तान को इस हाई स्कोर वाले मैच में 4 विकेट से हरा दिया.

एशिया कप 2012, सचिन का सौंवा शतक

एशिया कप 2012 का मैच सचिन तेंदुलकर कभी नहीं भूलना चाहेंगे यही वह मैच था जिसमें सचिन तेंदुलकर ने अपने अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट करियर में 100वां शतक पूरा किया. सचिन ने बांग्लादेश के खिलाफ खेलते हुए 147 गेंदों पर 114 रन बनाए थे.

एशिया कप 2008, जब सनथ जयसूर्या ने ठोंका फाइनल में शतक

जहां भारत के लिए एशिया कप में कई यादगार पल रहे वहीं टीम इंडिया के साथ एशिया कप में कड़वी यादें भी जुड़ी हैं. साल 2008 में एशिया कप फाइनल में भारत के खिलाफ सनथ जयसू्र्या ने शतक जड़कर टीम इंडिया की उम्मीदों पर पानी फेर दिया. जयसूर्या ने इस फाइनल मैच में 125 रनों की पारी खेली. जयसूर्या की पारी के चलते श्रीलंका ने भारत को फाइनल में 6 विकेट से हरा कर खिताब जीता. जयसूर्या ने इस फाइनल मैच में 125 रनों की पारी खेली.

एशिया कप 1997 अर्जुन राणातुंगा ने ठोंका भारत के खिलाफ शतक

1997 में खेले गए एशिया कप में तत्तकालीन श्रीलंका कप्तान अर्जुन राणातुंगा ने भारत के खिलाफ मैच में शतकीय पारी खेली थी. रणतुंगा ने इस मैच में नाबाद 131 रन रन बनाए थे. अर्जुन राणातुंगा ने 151 गेंदों का सामना करते हुए ये रन बनाए थे.

एशिया कप 2016 में विराट का बल्ला एक बार फिर पाकिस्तान के खिलाफ चला. साल 2016 में एशिया कप का आयोजन टी20 फॉर्मेट के आधार पर किया गया. इस महत्वपूर्ण मैच में भारतीय टीम के बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे और अंजिक्य रहाणे खाता भी नहीं खोल पाए थे जबकि रोहित शर्मा 1 रन बनाकर आउट हो गए. ऐसे में प्रेशर में आई टीम इंडिया के खेवनहार विराट कोहली बने. विराट ने इस मैच में 49 रनों की पारी खेली. उनकी इसी पारी के चलते भारत एशिया कप में पाकिस्तान को हराने में सफल रहा.

Asia Cup 2018: 19 सितंबर को होगा एशिया कप में भारत-पाकिस्तान के बीच महामुकाबला

Asia Cup 2018 India full schedule: जानिए, कब और कहां किससे भिड़ेगी टीम इंडिया