नई दिल्ली. एशिया कप 2018 में भारत-भारत पाकिस्तान मुकाबला होने में 3 दिन बचे हैं. एक साल बाद ये पहला मौका है जब 19 सितंबर को क्रिकेट की धुर विरोधी दोनों टीमें आपस में भिड़ेंगी. इससे पहले साल 2017 में चैम्पियन्स ट्रॉफी के दौरान दोनों टीमों के बीच मैच खेले गए थे. पाकिस्तान का वनडे में हालिया प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है. पाक टीम के कई खिलाड़ी मौजूदा समय में अपने बेहतरीन दौर से गुजर रहे हैं. 19 सितंबर को भारत-पाक मैच के दौरान टीम इंडिया को पाकिस्तान के इन 5 खिलाड़ियों से सावधान रहना होगा.

फखर जमां
टीम इंडिया को पाकिस्तान के ओपनर फखर जमां से सावधान रहना होगा. यही वही फखर जमां हैं जिन्होंने चैम्पियन्स ट्रॉफी के फाइनल में भारत के खिलाफ शतक लगाया था. इनके शतक के चलते पाकिस्तान 2017 की चैम्पियन्स ट्रॉफी जीतने में सफल रहा. इसके अलावा फखर जमां पाकिस्तान के इकलौते क्रिकेटर हैं जिन्होंने एकदिवसीय मैच में दोहरा शतक लगाया है. उन्होंने वनडे में दोहरा शतक जिम्बाब्वे के खिलाफ लगाया था. भारत को अगर मैच में सफलता पानी है तो फखर जमां को जल्दी आउट करना होगा.

इमाम-उल-हक

इमाम-उल-हक पूर्व पाकिस्तान के कप्तान और महान बल्लेबाज इंजमाम-उल-हक के भतीजे हैं. 22 वर्षीय इस खिलाड़ी से टीम इंडिया को सतर्क रहना होगा. इमाम-उल-हक ने अपने एकदिवसीय करियर की शुरुआत बड़े ही सनसनीखेज तरीके की है. इमाम अब तक 11 पारियों में 4 शतक लगा चुके हैं. फखर जमां के साथ उनकी साझेदारी टीम के लिए रीढ़ की हड्डी का काम करती है. वह किसी भी स्थिति में पाकिस्तानी टीम को संभालने की कुव्वत रखते हैं.

बाबर आजम

बाबर आजम का शुमार पाकिस्तान के सबसे विध्वंशक बल्लेबाजों में किया जाता है. 23 वर्षीय बाबर आजम का संयुक्त अरब अमीरात की धरती पर शानदार रिकॉर्ड रहा है. यूएई में बाबर आजम 11 पारियों में 5 शतक ठोंक चुके हैं. बाबर आजम को आक्रामक क्रिकेट खेलना काफी पसंद है. भारत को इस धांसू बल्लेबाज को जल्द मैदान से विदा करना होगा. अगर टीम इंडिया ऐसा नहीं कर पाई तो बाबर आजम भारत के सामने मुश्किलें खड़ी कर सकते हैं.

शादाब खान

एशिया महाद्वीप में जीत दिलवाने में हमेशा से स्पिनर्स की भूमिका अहम रही है. भारत की हार में पाकिस्तानी स्पिनर शादाब महत्वपूर्ण भूमिका निभा सकते हैं. साफ तौर पर जाहिर है कि शादाब खान इस समय पाकिस्तान के विकेट टेकर बॉलर हैं. वह अपनी बॉलिंग से कम अनुभवी भारतीय बल्लेबाजों को जल्द आउट कर मैच का रुख मोड़ सकते हैं.

हसन अली

पाकिस्तान के पास हमेशा धुआंधार तेज गेंदबाजों का बोलबाला रहा है.  इस समय पाकिस्तानी टीम में शामिल तेज गेंदबाज हसन अली बहुत ही खतरनाक बॉलर हैं . वह अपनी बॉलिंग से किसी भी समय मैच का रुख पलट सकते हैं. हसन अली गेंद को रिवर्स स्विंग कराने में माहिर हैं. हसन अली की गति परिवर्तन बहुत ही खतरनाक होती है. ऐसे में देखना होगा भारतीय बल्लेबाज उनका सामना कैसे करेंगे.

Asia cup 2018: जानिए, क्या कहते हैं एशिया कप में भारत-पाकिस्तान के बीच खेले गए मैचों के आंकड़े

Asia cup 2018: सिर्फ पाकिस्तान पर नहीं है हमारा फोकस, खिताब जीतना चाहते हैं कप्तान रोहित शर्मा

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App