नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज संसदीय क्षेत्र वाराणसी में सड़कों पर रहे, पूरी ताकत दिखाई और अपने क्षेत्र में विधानसभा चुनाव का विजय रथ दौड़े इसकी भरसक कोशिश की. वहीं, दूसरी तरफ उसी बनारस में अखिलेश यादव-राहुल गांधी ने मोदी का मोर्चा लेने की कोशिश की.
 
ताकत इस बात पर लगाई कि मोदी जितना अपना बना रहे हैं, उतना अखिलेश-राहुल तोड़ पाएं. गढ़ में पीएम के लिए कोई भी नुकसान बीजेपी और केंद्र की सरकार के लिए बड़ा नुकसान होगा. यह बात पीएम को भी पता है और यूपी के सीएम को भी. 
 
दरअसल, तीनों नेताओं के ये रोड शो सिर्फ शो नहीं थे बल्कि ताकत की आजमाइश थी. अब सवाल ये है कि दोनों तरफ से रोड शो क्यों हुए? क्या है रोड शो की राजनीति और राज? बनारस में एक दिन में दो-दो रोड शो का मतलब समझने के लिए देखिए इंडिया न्यूज का खास शो ‘अर्धसत्य’. वीडियो में देखें पूरा शो.