नई दिल्ली: मेरठ की सरधना विधानसभा सीट पर समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार अतुल प्रधान के लोगों ने वोटिंग से ठीक पहले जमकर मारपीट की. यहां से बीजेपी के उम्मीदवार संगीत सोम मैदान में है. कहा ये जा रहा है कि संगीत सोम के खिलाफ अखिलेश यादव ने पूरी ताकत लगा दी और ये बवाल भी उसी तैयारी का नमूना था.
 
यूपी में शनिवार को 73 सीटों के लिये वोटिंग हुई. इस वोटिंग से पहले देश की राजनीति में आपने यानी वोटर ने अपना क्या हाल बना रखा है औऱ राजनीति वोटर के साथ कौन सा खेल खेलती है. आजादी के बाद ना कुछ बदला है और ना कुछ बदलता दिख रहा है.
 
यूपी के बिजनौर में शुक्रवार को विशाल नाम के एक नौजवान की हत्या कर दी गई और उसके पिता भी बुरी तरह जख्मी हैं. कहा जा रहा है कि दोनों बाप बेटे शाम को ट्यूबवेल पर गए थे, इसी दौरान आधा दर्जन लोगों ने आकर उनपर फायरिंग कर दी.
 
मामला क्या है ये नहीं पता लेकिन इस मामले को चुनावी रंग देने की पूरी कोशिश की जा रही है. बिजनौर में दूसरे चरण में 15 फरवरी को वोटिंग होनी है लेकिन माहौल बवाल का है.
 
चुनावी माहौल में सबसे मुश्किल बात ये है कि राजनेता जो पत्ते फेंकते हैं उसे आप समझ नहीं पाते औऱ फिर सोच-विचार से अलग बहकावे-उकसाने का आप शिकार हो जाते हैं. जब पहले दौर की वोटिंग के चार घंटे भी नहीं पूरे हुए थे कि अखिलेश और राहुल गांधी मीडिया के सामने आ गए और कॉमन मिनिमम प्रोग्राम के नाम पर अलग अलग तबके के लिए चारा फेंक गए.
 
(वीडियो में देखें पूरा शो)

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर