इटावा: अब कहां हूं… कहां नहीं हूं मैं… जिस जगह हूं वहां नहीं हूं मैं…, कौन आवाज दे रहा है मुझे… कह दो यहां नहीं हूं मैं. ये शब्द आज की तारिख मैं इन नेता पर बिल्कुल फिट बैठते हैं. उत्तर प्रदेश में एक व्यक्ति जिसके इर्द-गिर्द यूपी की राजनीति घुमती है वो हैं शिवपाल सिंह यादव. इंडिया न्यूज के मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत ने उत्तर प्रदेश के चुनावों को लेकर शिवपाल यादव से की खास बातचीत. 
 
 
‘चुनाव के बाद सभी को बताउंगा’
मैं चुनाव समाजावदी पार्टी (SP) से लड़ रहा हूं और मेरा चुनावी चिन्ह साईकिल है. हमको सब पता है कि पार्टी कैसे बनानी है, मुझे 40 साल काम करते हुए हो गए. जिन्हें ज्यादा जानकारी है (रामगोपाल यादव) उनके बारे में भी मुझे सब पता है.  जिस तरह की बातें होती हैं, हुई हैं. उन लोगों के बारे में भी मुझे पता है. मैं उन लोगों को चुनाव के बाद बताऊंगा. 
 
 
‘BSP के बारे में सोचा नहीं’
मैंने अभी बहुजन समाज पार्टी (BSP) में जाने के बारे में सोचा नहीं है. अगर मुझे बीएसपी में जाना होता तो मैं सपा से चुनाव में क्यों लड़ता. मैंने अंबिका चौधरी को BSP में नहीं भेजा और न मुझे किसी के सहारे BSP में जाने में कोई दिलचस्पी है. मुझे किसी के सहारे की कोई जरुरत नहीं है. मुझे जब जाना होगा तो मैं खुद चला जाउंगा. 
 
(वीडियो में देखें पूरी बातचीत)
 

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App