नई दिल्ली. अक्सर किसी उत्पाद को बाजार में बेचने के लिए कंपनी किसी जानी-मानी हस्ती को इसका कमान सौंपती है ताकि उनके कहने पर लोग झट से उत्पाद को खरीद ले. इसका परिणाम सकरात्मक भी होता है और लोग धड़ल्ले से कंपनी के उत्पादों को खरीदते भी हैं लेकिन कई बार इन विज्ञापनों में कई भ्रामक वादे किए जाते हैं, बढ़ा-चढ़ाकर दावे किए जाते हैं.
 
विज्ञापनों में ऐसा साबित करने की कोशिश की जाती है कि बस उस उत्पाद का इस्तेमाल कर लेने भर से उपभोक्ता की जिंदगी हमेशा के लिए बदल जाएगी और उनका जीवन इन हस्तियों और सितारों के जैसा हो जाएगा. कई बार ये उत्पाद ऊंची दुकान और फीका पकवान वाली कहावत को सच करते हुए दिखाई देते हैं, ऐसे में आम लोगों को लगता है कि उनके पंसदीदा अभिनेता, खिलाड़ी या कलाकार ने उन्हें धोखा दिया है. इसलिए अब उपभोक्ताओं को इसी धोखे से बचाने के लिए सरकार Consumer Protection Bill में बदलाव कर सकती है. बिल में बदलाव के तहत भ्रामक विज्ञापन के लिए भारी जुर्माना और पांच साल की जेल की सजा पर फैसला लिया जा सकता है.
 
इंडिया न्यूज के खास शो ‘अर्ध सत्य‘ में मैनेजिंग एडिटर राणा यशवंत आपको बताएंगे कि भ्रामक विज्ञापन किस हद तक आपको प्रभावित करते हैं. 
 
वीडियो पर क्लिक करके देखिए पूरा शो

Leave a Reply

Your email address will not be published.

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,गूगल प्लस, ट्विटर पर और डाउनलोड करें Inkhabar Android Hindi News App