उत्तर प्रदेश. उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव 2022 ( UP Elections 2022 ) नज़दीक है. ऐसे में सभी राजनितिक दलों ने अपनी सियासत तेज़ कर दी है. चुनाव में अपना वर्चस्व बनाए रखने के लिए जगह-जगह सम्मेलन आयोजित किए जा रहे हैं. और तमाम सियासी पेंच खेले जा रहे हैं. इसी बीच कांग्रेस की मुश्किलें कुछ बढ़ती हुई नज़र आ रही है.

दरअसल, उत्तर प्रदेश के बड़े ब्राह्मण नेता और पूर्व विधायक ललितेशपति त्रिपाठी ने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया है. उन्होंने कांग्रेस के सभी पदों से इस्तीफा दे दिया है. जान लें कि ललितेशपति त्रिपाठी यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री कमलापति त्रिपाठी के परिवार से हैं. ललितेशपति त्रिपाठी साल 2012 में मिर्जापुर की मड़िहान विधान सभा से विधायक बने थे. जो कि पूर्वी यूपी में कांग्रेस के बड़े ब्राह्मण चेहरे के रूप में थे.

ललितेशपति त्रिपाठी का इस्तीफ़ा कांग्रेस के लिए साबित हो सकता है बड़ा झटका

निश्चित रूप से कांग्रेस को आज एक और तगड़ा झटका लगा जब उसके सबसे पुराने परिवारों में से एक के परिवार ने पार्टी से नाता तोड़ लिया। पूर्व विधायक ललितेश पति त्रिपाठी, यूपी के पूर्व सीएम दिवंगत कमला पति त्रिपाठी के परपोते ने घोषणा की कि वो कांग्रेस छोड़ रहे थे क्योंकि समर्पित और वफादार पार्टी कार्यकर्ताओं और कैडर को किनारे और उपेक्षित किया जा रहा था.

बता दें कि ललितेशपति त्रिपाठी ( Laliteshpati Tripathi ) ने एक सभा को सम्बोधित करते हुए कहा की वे पार्टी में असहज महसूस कर रहे थे. जिसके बाद उन्होंने पार्टी छोड़ने का फैसला लिया है. हालाँकि उन्होंने पार्टी के प्रमुख चेहरे राहुल गाँधी और सोनिया गाँधी को पार्टी में सेवा का मौका देने के लिए धन्यवाद कहा.

 

यह भी पढ़ें : 

Pitru Paksh 2021 : पितृपक्ष के दौरान ये सपने बताते हैं कि पूर्वज आपसे नाराज हैं, जानिए क्या करें

UNICEF Report: पिछले दशक से बच्चों के आहार में सुधार नहीं, कोरोना के दौरान बिगड़े हालात

 

देश और दुनिया की ताजातरीन खबरों के लिए हमे फॉलो करें फेसबुक,ट्विटर