नई दिल्ली. सरकारी सूत्रों की माने तो अफ्रीकी देश माली में बंधक संकट खत्म हो गया है. दो आतंकियों ने होटल में 170 लोगों को बंधक बना रखा था. इनमें 20 भारतीय थे. तमाम भारतीयों को सुरक्षित निकाल लिया गया है लेकिन इस हमले में 27 लोग मारे गये हैं. होटल से 27 शव निकाले गये हैं. अलकायदा से जुड़े संगठन ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.
 
रेडिसन होटल में 170 लोगों को आतंकियों ने बंधक बनाया था. आतंकी कुरान की आयत पढ़ने को बोल रहे हैं. नहीं पढ़ पाने वालों को मार रहे थे. माली के होटल में कुरान की आयते पढ़ने वाले बन्धकों को आतंकवादियों ने रिहा किया. इस होटल में 20 भारतीय बंधक भी थे.  ये दुबई की कंपनी के लिए काम करते थे.
 
इससे पहले क्या क्या हुआ?
आतंकियों ने कुरान की आयत पढ़ने वाले 20 लोगों को रिहा कर दिया. जो नहीं पढ पाया उसे मार दिये. माली की राजधानी बमेको में रेडिसन होटल में स्टाफ समेत कई लोग बंधक बना लिए गए हैं. जिसके बाद इलाके को सील करके पुलिस ने होटल को घेर लिया है. इस दौरान होटल के कॉरिडोर से गोलीबारी की आवाजें भी सुनी गई हैं. अगस्त में माली के सेवारे शहर में कथित तौर पर इस्लामी उग्रवादियों ने 13 लोगों की हत्या कर दी थी जिनमें 5 संयुक्त राष्ट्र कर्मी भी थे.