पेरिस. फ्रांस में हुए सिलसिलेवार आतंकी हमलों की जिम्मेदारी एक बार फिर आतंकी संगठन ISIS ने ली है. ISIS ने कहा है कि फ्रांस के लड़ाकू विमान सीरिया और इराक में बम बरसा रहे हैं और यह हमला उन्हीं कार्रवाइयों का बदला है. बता दें कि इस एक साल में ही फ्रांस में यह चौथा बड़ा आतंकी हमला है. सिर्फ फ्रांस ही नहीं ISIS ने पिछले कुछ सालों में काई देशों में आतंकी वारदातों को अंजाम दिया है. 
 
यह क्रूर आतंकी संगठन कम से कम 11 देशों में हमलों को अंजाम दे चुका है:
1. सऊदी अरब
2. फ्रांस 
3. लीबिया
4. लेबनान
5. मिस्र
6. ट्यूनिशिया
7. यमन
8. अफगानिस्तान
9. तुर्की
10. कुवैत
11. बांग्लादेश
 
फ्रांस में इस साल की शुरूआत में शार्ली हेब्दो पत्रिका में छपे कार्टून को लेकर ISIS ने पत्रिका के दफ्तर पर हमले को अंजाम दिया था. वहीं ताजा हमला पेरिस में कई जगहों पर किए गए हैं. बांग्लादेश में इस संगठन ने ब्लॉगरों की हत्याओं को अंजाम दिया. हाल में मिस्र से उड़ान भरे रूस के यात्री विमान को मार गिराने का भी इस संगठन ने दावा किया. इस विमान में 224 यात्रियों की मौत हो गई. रूस सीरिया में ISIS के खिलाफ हवाई हमले कर रहा है. कहा गया कि संगठन ने इसका बदला लेने के लिए हमलों को अंजाम दिया. इतना ही नहीं, हाल के दिनों में ऑस्ट्रेलिया, अमेरिका, ब्रिटेन समेत तमाम देशों में ISIS से जुड़े संदिग्ध आतंकियों की गिरफ्तारियां हुईं हैं. समूह की बढ़ती सक्रियता बताती है कि इसने अलकायदा और अन्य आतंकी समूहों की जगह लेनी शुरू कर दी है.