पेरिस. फ्रांस की राजधानी पेरिस एक बार फिर बड़ा आतंकी हमला हुआ है. इस बार हमला मुंबई के 26/11 अटैक की तर्ज पर देखने को मिला है. भारतीय वक्त के मुताबिक आतंकियों ने शनिवार सुबह पेरिस में सात अलग-अलग जगहों पर हमला किया. राजधानी में जमकर फायरिंग और सीरियल ब्लास्ट भी हुए. अब तक 150 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की खबर है और सैकड़ों घायल भी बताए जा रहे हैं. 
 
हमले के बाद फ्रांस के पीएम फ्रांस्वा ओलांद ने जी-20 समिट का दौरा रद्द कर दिया है. फ्रांस में स्टेट ऑफ इमरजेंसी लागू कर दी गई है. पूरा यूरोप हाई अलर्ट पर है. फ्रांस के कमांडोज ने अब तक पांच हमलावरों को मार गिराया है. SkyNews के मुताबिक इन हमलों में 160 लोगों की मौत हो गई है. आतंकियों ने पेरिस के बैटाकलां कंसर्ट हॉल में बंधक बनाए गए 100 लोगों के मारे जाने की खबर है. इन आतंकी हमलों के बाद फ्रांस के बॉर्डर सील कर दिए गए हैं.
 
मुंबई 26/11 जैसा है हमला
मुंबई में 26 नवंबर 2008 को पाकिस्तान से आए 10 आतंकियों ने 12 जगहों पर फायरिंग की थी और ब्लास्ट किए थे. इन हमलों में भी 164 लोग मारे गए थे और 308 घायल थे.आतंकियों ने ताज और ओबेरॉय होटल में कई लोगों को बंधक बनाया था.तीन दिन के ऑपरेशन के बाद 10 आतंकियों को मार गिराया गया था. पेरिस में भी हमलों का तरीका ऐसा ही है.
 
स्टेडियम को भी बनाया निशाना
बंदूकधारियों ने स्टेड द फ्रांस फुटबॉल स्टेडियम और एक बार में धमाके किए, वहीं एक रेस्टोरेंट में गोलीबारी की. धमाके के वक्त स्टेडियम में फ्रांस और जर्मनी के बीच फ्रैंडली मैच चल रहा था. धमाके के आवाज स्टेडियम में भी सुनाई दी. इसके बाद मैच को रोक दिया गया.
 
फ्रेंच पुलिस के मुताबिक, धमाके के समय स्टेडियम में फ्रांस के प्रेसिडेंट फ्रांस्वा ओलांद भी मौजूद थे. उन्हें अब सुरक्षित निकाल लिया गया है. मौके पर फ्रांस पुलिस और एंटी टेररिस्ट के जवान पहुंच चुके हैं. ऐसा अंदेशा लगाया जा रहा है कि पेरिस के आस-पास के इलाकों में भी गोलीबारी हुई है.
 
फ्रेंच प्रेसिडेंट ने जारी की इमरजेंसी
प्रेसिडेंट फ्रांस्वा ओलांद ने पैरिस हमले के बाद ‘स्टेट ऑफ़ इमरजेंसी’ जारी कर दी है. उन्होंने मीडिया से कहा कि “पूरे शहर में एंटी टेररिस्ट फोर्स भेजी गई है. जल्द से जल्द हमलावरों को पकड़ लिया जाएगा. हमने बॉर्डर को बंद कर स्टेट ऑफ़ इमरजेंसी लगा दी गई है.”