लंदन. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की पहली ब्रिटेन यात्रा के दौरान भारत और ब्रिटेन के बीच नौ अरब पौंड के समझौते हुए हैं. इन सभी सौदों में छह ऐसे हैं जिनसे भारत को आर्थिक तौर पर बड़ा फायदा मिलता नज़र आ रहा है. 
 
क्या हैं समझौते
1. वोडाफोन भारत में अपने नेटवर्क को उन्नत बनाने और उसके विस्तार में, पुणे एवं हैदराबाद में नये तकनीक केंद्र बनाने में, नये डेटा केंद्र बनाने तथा नये पेमेंट बैंक बनाने में 1.3 अरब पौंड का निवेश करेगी.
 
2. अगले पांच वर्षों में भारत में तीन गीगावाट्र्ज की सौर उर्जा के डिजाइन और उसके प्रबंधन में लाइट सोर्स दो अरब पौंड का निवेश करेगी, जिससे भारत और ब्रिटेन में 300-300 लोगों के लिए रोजगार का अवसर उपलब्ध हो सकेगा.
 
3. इंटेलिजेंट एनर्जी ने भारत के 27,400 टेलिकॉम टॉवर को स्वच्छ उर्जा मुहैया कराने के लिए 1.2 अरब पौंड के समझौते पर हस्ताक्षर किया है.
 
4. किंग्स कॉलेज हॉस्पिटल्स फाउंडेशन ट्रस्ट और इंडो-यूके हेल्थकेयर चंडीगढ़ में एक अस्पताल की स्थापना करेगा. यह भारत में बनने वाले 11 इंडो-यूके हॉस्पिटल्स का पहला अस्पताल होगा. समय के साथ भारत में चिकित्सा क्षेत्र में यह सौदा एक अरब पौंड का होगा.
 
5. इंडिया बुल्स ब्रिटिश स्टार्ट-अप बैंक ओकनार्थ में 6.6 करोड़ पौंड का निवेश करेगी.
 
6. यस बैंक और लंदन स्टॉक एक्सचेंज ने एक करार पर हस्ताक्षर किया है.