लंदन. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि उन्हें कभी भी ब्रिटेन आने से नहीं रोका गया. ब्रिटिश पीएम डेविड कैमरन के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में मोदी ने ब्रिटिश पत्रकारों के एक सवाल के जवाब में कहा कि उन्हें ब्रिटेन आने से रोकने की बात एक गलत धारणा है.
 
कैरमन के साथ साझा बयान जारी करने के बाद सवाल-जवाब राउंड में मोदी से एक ब्रिटिश पत्रकार ने लंदन में उनके खिलाफ हो रहे विरोध-प्रदर्शन और गुजरात सीएम के तौर पर उनके कार्यकाल का जिक्र करते हुए उन्हें ब्रिटिश वीजा नहीं मिलने का सवाल उठाया तो मोदी ने कहा कि सच्चाई तो ये है कि वो 2003 में भी ब्रिटेन आए थे.
 
मोदी ने कहा, “सच ये है कि मैं 2003 में भी ब्रिटेन आया था और तब भी मेरा स्वागत हुआ था. उस समय भी मैंने कई कार्यक्रमों में हिस्सा लिया था. ब्रिटेन ने कभी मुझे आने से नहीं रोका है. ये गलत धारणा है.”