नई दिल्ली. यमन में जारी राजनीतिक संकट और हौती विद्रोहियों के खिलाफ सऊदी अरब के नेतृत्व में पिछले महीने से जारी हवाई हमलों के कारण 1 लाख से ज्यादा लोगों को विस्थापित होना पड़ा है. संघर्ष के कारण लोगों को खाने तक की समस्या हो रही है. अदन के स्थानीय बाजार में आटा नहीं है और सभी बेकरियां बंद हैं. 

संयुक्त राष्ट्र में मानवतावदी मामलों की अंडर-सेक्रेटरी वालेरी एमोस ने यमन में जारी लड़ाई के बीच नागरिकों की सुरक्षा को लेकर चिंता जताई है. उन्होंने सभी पक्षों से अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का पालन करते हुए नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए कहा है. रिपोर्टो के मुताबिक, पिछले दो सप्ताह में लगभग 519 लोग मारे जा चुके हैं और लगभग 1,700 लोग घायल हुए हैं.