न्यूयॉर्क. आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट ने एक विडियो जारी कर अमेरिका को 9/11 जैसे हमले की चेतावनी दी है. विडियो में कहा गया है कि पूरी दुनिया में अब अमेरिकियों के लिए कोई सुरक्षित जगह नहीं रह गई है. खलीफा की ताकत को दिखाने के लिए विडियो में तमाम सिर कलम की घटनाएं और इस्लामिक स्टेट के लड़ाकों को लड़ते हुए दिखाया गया है. 11 मिनट का विडियो 10 मार्च को जारी बताया जा रहा है, जिसे ‘वी विल बर्न अमेरिका’ टाइटल दिया गया है.

विडियो के जरिए से अमेरिका को धमकी दी है कि 9/11 जैसे हमले के जरिए उसे राख में तब्दील कर दिया जाएगा. अखबार ‘डेली मेल’ की सोमवार को जारी एक रिपोर्ट के मुताबिक विडियो में आईएस ने चेताया है कि दुनिया के किसी भी हिस्से में अमेरिकी सुरक्षित नहीं हैं. वीडियो में आईएस ने अपने समर्थकों से अमेरिकी धरती पर हमले करने का आह्वान किया है. उसने अमेरिकी नागरिकों की सुरक्षा की भावना को मृगतृष्णा करार दिया है. कुल 11 मिनट के इस विडियो में अमेरिकी पत्रकार जेम्स फोले का सिर कलम करने, सामूहिक तौर पर लोगों के सिर कलम करने व जॉर्डन के पायलट मोआज अल-कसासबेह को जिंदा जलाने जैसे अन्य खौफनाक हमलों के दृश्य शामिल किए गए हैं.

विडियो में दावा किया गया है कि मुजाहिदीनों ने न्यू यॉर्क के वर्ल्ड ट्रेड सेंटर ट्विन टावरों पर बेहद सीमित संसाधनों के जरिए हमले किए थे. टूटी-फूटी अंग्रेजी भाषा में आईएस के विडियो में कहा गया है, ‘अल्लाह की मर्जी से जल्द ही उन पर एक बार फिर कहर बरपेगा.’ विडियो के मुताबिक, ‘अल्लाह के रहमोकरम से मुजाहिदीन अब पहले से अधिक ताकतवर हो गए हैं और उनके पास पहले से अधिक संसाधन हैं. इसलिए अमेरिका को खाक करने में वे सक्षम हैं.’

विडियो फुटेज में वर्ल्ड ट्रेड सेंटर के टावरों को हाइजैक किए गए विमानों द्वारा जमींदोज करते हुए भी दिखाया गया है. अमेरिका को विडियो से डराने का यह पहला मामला नहीं है. आईएस आतंकवादियों ने इसके पहले जनवरी में अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा का सिर कलम करने व अमेरिका को एक मुस्लिम राष्ट्र में तब्दील करने की धमकी दी थी.