काठमांडू. भारत ने सुरक्षा कारणों से नेपाल सीमा पर स्थित दो प्रमुख पारगमन नाके बंद कर दिए हैं. रक्सौल-बीरगंज में स्थित एक पारगमन नाके को, पुलिस गोलीबारी में एक भारतीय के मारे जाने पर बंद किया गया है. नेपाल सरकार ने बीरगंज में हिंसा के बाद कर्फ्यू लगा दिया है. इसी तरह भारतीय सुरक्षा बलों ने जोगबनी-बिराटनगर पारगमन नाके को भी बंद कर दिए हैं. पश्चिमी नेपाल के रुपैदिया-नेपालगंज और सुनौली-भैरहवा में स्थित दो अन्य सीमा चौकियों को भी बंद कर दिया गया है.
 
 
सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) के कमांडर पी.एन. सिंह ने मीडिया से कहा कि सीमा चौकियां दो दिनों तक बंद रहेंगी. एसएसबी सिर्फ पैदल यात्रियों को ही सीमा पार करने की इजाजत दे रहा है. नेपाल की नंबर प्लेट वाले कुछ वाहनों ने सोमवार को रुपैदिया सीमा शुल्क चौकी के रास्ते प्रवेश किया. कुछ ईंधन टैंकर और ट्रक इसमें शामिल थे.
 
 
नेपाल के अधिकारियों ने कहा कि प्रवेश नाकों को बंद करने के निर्णय के बारे में नेपाल प्रशासन को सूचित नहीं किया गया है. 
 
बता दें कि नेपाल में मधेसी राजनीतिक दलों द्वारा नेपाल के नए संविधान के खिलाफ भारी विरोध प्रदर्शन के बाद से भारत-नेपाल सीमा पर तनाव बना हुआ है. इस कारण से भारत से नेपाल के लिए ईंधन और अन्य आवश्यक वस्तुओं का परिवहन बुरी तरह प्रभावित हुआ है.
 
IANS